पावरकॉम एक्शन मोड में:  नई कंपनी को दिया बिजली बिल का ठेका, दिए ये निर्देश

punjabkesari.in Wednesday, Mar 16, 2022 - 04:22 PM (IST)

जालंधर (पुनीत) : गलत बिजली बिल उपभोक्ताओं के लिए एक बड़ी समस्या है, इससे विभाग समय पर बिलों का भुगतान नहीं कर पाता और बकाया बढ़ता जा रहा है। गलत बिल आने पर उपभोक्ता अपने बिलों का भुगतान नहीं करते हैं, जिससे सैकड़ों बिल लंबे समय तक लंबित रहते हैं। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि लंबे समय से चली आ रही गलत बिलिंग की शिकायतों पर कार्रवाई करते हुए पावरकॉम ने पुरानी कंपनी को हटाकर नई कंपनी को बिजली बिल ट्रांसफर कर दिया है। कंपनी ने 1 अप्रैल से ठेके पर दिए बिल बनाने के इस काम में कम्पनी को  साफ तौर पर हिदायतें दी गई हैं कि अगर बिलों में पहले की तरह गलतियां हुई तो कम्पनी को इसके लिए दोषी ठहराया जाएगा। इस सीरीज में नई कंपनी पर जुर्माना लगाने के अलावा कई तरह के गाज भी गिरेगी।

नई कंपनी को बिजली बिलिंग का ठेका देने के अलावा विभाग ने अपने कर्मचारियों को यह भी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि उपभोक्ताओं को गलत बिल नहीं पहुंचाया जाए। इसी क्रम में पावर निगम के कर्मचारी नियमित रूप से विभिन्न क्षेत्रों के बिलों की जांच करेंगे। प्रत्येक बिलिंग के बाद बिलों की चैकिंग की रिपोर्ट वरिष्ठ अधिकारियों को देनी होगी। अधिकारियों का कहना है कि पावरकॉम पिछले कई महीनों से सुचारू रूप से काम नहीं कर रही है, जिसके कारण बड़ी संख्या में लोगों को गलत बिल प्राप्त हो रहे हैं। इसी कड़ी में मकसूदां  डिवीजन के उपभोक्ता राज कुमार ने कहा कि वे बिल भरने के लिए तैयार हैं  लेकिन मीटर पर साफ है कि बिल गलत है। बिल पर रीडिंग मीटर रीडिंग से 700 यूनिट ज्यादा है।

इसी तरह कई उपभोक्ताओं का कहना है कि जब वे बिल ठीक करने जाते हैं तो लंबी-लंबी लाइनें लग जाती हैं, जिससे कर्मचारियों के पास बिल ठीक करने का समय नहीं होता और कई लोगों को मायूस होकर वापस जाना पड़ता है। समस्या यह है कि उपभोक्ता अपने बिलों का भुगतान नहीं कर रहे हैं और फील्ड स्टाफ से गलत बिलिंग की शिकायत कर रहे हैं, जिससे वसूली में बाधा आ रही है।

बिल समय पर भेजना सुनिश्चित करें
अधिकारियों का कहना है कि नई कम्पनी को ठेके के साथ ही यह बात सुनिश्चित बनानी होगी कि उपभोक्ताओं को उनके बिल समय पर प्राप्त होते रहे। हाल के दिनों में कई उपभोक्ताओं को 3-4 महीने का इकट्ठा बिल मिला है, जिसका भुगतान करना लोगों के लिए मुश्किल है। उपभोक्ताओं का कहना है कि उनके पास उनके घर का बजट है। एक साथ बिल मिलने से घर का बजट बिगड़ जाता है। इसलिए विभाग समय पर बिल तैयार करे।

1912 को झूठे बिलों की शिकायत
विभाग ने बिजली आपूर्ति में किसी प्रकार की गड़बड़ी की शिकायत दर्ज कराने के लिए 1912 नंबर जारी किए हैं, लेकिन हाल के दिनों में 1912 गलत बिलिंग की शिकायतों का अड्डा बना हुआ है। अधिकारियों का कहना है कि गड़बड़ी की शिकायत के लिए बनाए गए कंट्रोल रूम में बिलों की शिकायत दर्ज कराने की बजाय अपने-अपने बिजली घरों में जाकर बिल ठीक कराएं।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News