मुख्यमंत्री के महल के पास बेरोजगार मल्टीपर्पज हैल्थ वर्करों ने लगाए ‘हुक्के उत्ते हुक्का, ए घर भुक्खा’ के नारे

1/14/2020 11:26:49 AM

पटियाला(जोसन): लोहड़ी पर मुख्यमंत्री के महल से रोजगार की लोहड़ी लेने जा रहे बेरोजगार मल्टीपर्पज हैल्थ वर्करों के गुप्त एक्शन को पुलिस प्रशासन आखिर नियंत्रित करने में सफल रहा। पिछली 29 दिसम्बर से स्थानीय बारांदरी गार्डन आगे पक्का मोर्चा लगा कर बैठे बेरोजगार मल्टीपर्पज हैल्थ वर्करों ने लोहड़ी पर पुलिस प्रशासन को उलझाए रखा। यूनियन नेता सुखविन्दर सिंह ढिलवां और तरलोचन सिंह नागरा ने बताया कि 11-11 सदस्यों के 2 जत्थे तैयार किए गए थे, जोकि अलग-अलग स्थानों पर बैठे हुए थे। 

दूसरी ओर सुबह से बेरोजगारों का खाली टैंट देख कर पुलिस में भगदड़ मच गई, क्योंकि यूनियन ने गुप्त रूप में महलों की ओर कूच करना था।नेताओं ने कहा कि आखिर प्रशासनिक अधिकारी सेहत मंत्री के साथ पैनल मीटिंग निश्चित करवाने का भरोसा देकर बेरोजगारों को एस.डी.एम. के पास ले गए। परन्तु बेरोजगार बैठक के साथ-साथ रोजगार की लोहड़ी पर अड़े थे। उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा लिखित पैनल मीटिंग दिलाने का भरोसा देकर पुलिस प्रबंधों में मुख्यमंत्री के महल आगे लोहड़ी दिलाने के लिए ले जाया गया। मुख्यमंत्री के महल के पास जाकर बेरोजगार मल्टीपर्पज हैल्थ वर्करों ने ‘हुक्के उत्ते हुक्का, ए घर भुक्खा’ के नारे लगाए गए। नेता नागरा ने बताया कि यूनियन ने पैनल मीटिंग और कोठी तक ले जाए जाने पर सहमति करके पक्का मोर्चा ज्यों का त्यों जारी रखने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि जब तक बेरोजगारों की भर्ती नहीं की जाती संघर्ष जारी रहेगा। 
 


swetha

Related News