नव वर्ष में विधानसभा चुनावों पर टिकी पूरे पंजाब की नजरें, दिलचस्प होगा मुकाबला

punjabkesari.in Friday, Dec 31, 2021 - 01:26 PM (IST)

चंडीगढ़: अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों में सबसे दिलचस्प मुकाबला पंजाब में होता दिखाई दे रहा है। सबकी नजरें इन चुनावों पर टिकी हुई हैं। यहां दोस्ती, वफा और दगा की कहानी में नित्य नए अध्याय जुड़ रहे हैं। नेताओं की आपसी बयानबाजी काफी तेज हो गई है। राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस को बीते वर्ष वह देखना पड़ा, जिसकी किसी ने कल्पना नहीं की थी। कांग्रेस ने पिछले चुनाव कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में लड़े थे। 117 सदस्यता विधानसभा में कांग्रेस ने 77 सीटों हासिल की थी।

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी की मोगा रैली रद्द होने पर विरोधियों ने कुछ इस तरह साधे निशाने

बहुमत के बाद भी अमरिंदर सिंह सरकार कभी स्थिर नहीं रही और इसका कारण था आपसी खींच तान। भाजपा से कांग्रेस में आए नवजोत सिंह सिद्धू को अमरिंदर सिंह के मंत्री मंडल में जगह तो दी गई पर दोनों नेताओं के दरमियान दूरी बढ़ती ही रही। हालात यहां तक पहुंच गए कि अमरिंदर सिंह ने सी.एम. की कुर्सी छोड़ दी। बाद में उन्होंने नई पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस का गठन किया और भाजपा के साथ मिलकर लड़ने का ऐलान किया। अब कांग्रेस की चुनावी किश्ती पार लगाने की जिम्मेदारी नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और सूबा प्रधान नवजोत सिद्धू के कंधों पर है।

यह भी पढ़ें: केंद्र ने NIA को सौंपी मुल्तानी के खिलाफ जांच, जारी किए आदेश

विरोधी शिरोमणि अकाली दल और भाजपा भी टूट-फुट से बच नहीं सकी। नए कृषि कानून (जो अब रद्द हो गए हैं) लाए जाने साथ ही दोनों पार्टियों की दशकों पुरानी दोस्ती टूट गई। शिरोमणि अकाली दल ने आगामी चुनावों में बसपा के साथ मिल कर लड़ने का ऐलान किया है। उधर आम आदमी पार्टी ने भी सूबो में अपनी ताकत झोंक दी है।

यह भी पढ़ें: जालंधर के इस शिव मंदिर में हुई बेअदबी, शिवलिंग ही उठा कर ले गए आरोपी

अनुमान और नतीजे भी उसके पक्ष में आ रहे हैं। चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनने के बाद से आप के हौसले बुलंद हैं। उधर कई चुनाव से पहले सर्वेक्षणों में आप के सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरने का अनुमान प्रकट किया जा रहा है। ऐसे में आगानी चुनाव सूबो में नई सरकार लेकर तो आएगा ही, दोस्ती-शत्रुता की नयी कहानियां भी घड़ेगा। कृषि कानूनों के रद्द होने से उत्साहित 22 खेती संगठनों ने भी अपनी एक राजनीतिक पार्टी बना ली है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News