नशे के दलदल में पंजाब के 'गबरू' , एक ही इंजेक्शन से AIDS की चपेट में आए 20 नौजवान

4/19/2021 2:00:02 PM

 

जालंधर: पंजाब में नौजवानो को नशे से दूर करने के सारे उपाय व्यर्थ साबित हो रहे है। नौजवानो को नशे की लत से मुक्ति दिलाने के लिए सरकार के साथ-साथ कई निजी संस्थान भी अपना योगदान दे रही है। बावजूद इसके पंजाब में नशामुक्ति के खिलाफ उठाया गया कोई भी कदम सफल नहीं हो पा रहा है। ताजा मामला जिला जालंधर के गांव संसारपुर का है। जिसे हॉकी की नर्सरी के तौर पर जाना जाता है। यहां नौजवानों द्वारा एक ही इंजेक्शन से नशा करने के कारण 20 से ज्यादा नौजवानो के एड्स जैसी गंभीर बीमारी के चपेट में आने की खबर है। बीमारी की चपेट में आने वाले नौजवानो की उम्र 20 से लेकर 30 साल तक की बताई जा रही है।

PunjabKesari

गौर हो कि 2 साल पहले जालंधर के संसारपुर में एक संस्था ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर नशे के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। उन्होंने इस इलाके में चल रहे नशे के गोरखधंधे पर लगाम लगाने के लिए कई रैलीयों का आयोजन किया था। इन रैलीयों के कारण यह मामला सीएम ऑफिस तक पहुंच गया था। जिसके बाद नशे के सौदागरों ने इस संस्था को रोकने के लिए पूरा जोर लगा दिया था तथा संस्था को बदनाम करने की भी कोशिश की गई। दिनोंदिन बढ़ रहे परेशानियों से निजात पाने के लिए संस्था को इस दिशा में किये जा रहे कार्यों से पीछे हटना पड़ा। बताया जा रहा है कि इस इलाके में पिछले 10 सालों से एक ही ग्रुप चिट्टा बेचकर इलाके के नौजवानों को नशे का आदी बना रहा है। इस ग्रुप के खिलाफ पुलिस को भी कोई खास सफलता नहीं मिल पाई है। जालंधर के कैंट से लगते इलाकों में धड़ाधड़ नशे का कारोबार होने के बावजूद पुलिस व इलाके मेें नशे को रोकने के लिए बनाई गई एस.टी.एफ भी इस पर नकेल लगाने में नाकाम रही है।

PunjabKesari

गौरतलब है कि पिछले कई सालों से यहां के नौजवानो को चिट्टे की सप्लाई की जा रही है। जिसके कारण यहां के नौजवान न सिर्फ नशे के आदी हो रहे हैं बल्कि कई नौजवानो को इस लत के कारण अपनी जान भी गंवानी पड़ी है।


Content Writer

prince

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static