Russia-Ukraine War : भारत लौटी छात्राओं ने बयां किए हालात

punjabkesari.in Thursday, Mar 03, 2022 - 09:56 AM (IST)

नवांशहर/ नूरपुरवेदी (त्रिपाठी, भंडारी): यूक्रेन की बुकवेनन की चैनहैक्सी सिटी में स्थित मेडिकल यूनिवर्सिटी में एम.बी.बी.एस. की अंतिम समेस्टर की छात्रा शैफाली शर्मा व छात्रा सिमरनजीत कौर भारत सकुशल लौट आई। दोनों ने वहां के हालातों को बयान किया है।

यह भी पढ़ें : रेल यात्रा करने से पहले जरूर पढ़ें ये खबर, कहीं आपके साथ न हो जाए ऐसा...

उन्होंने बताया कि रूस के हमलों को लेकर यूक्रेन के 18 से 55 वर्ष के नागरिकों ने स्वयं हथियार उठा कर बिना जान की परवाह किए लड़ने का जो जज्बा दिखाया दिखासा है, वह यूक्रेन वासियों की देश भक्ति को उजागर करता है। नवांशहर के कस्बा साहिबा निवासी शैफाली ने बताया कि वह उक्त मैडीकल यूनिवर्सिटी में एम.बी.बी.एस. कर रही थी और अंतिम समेस्टर के मात्र 3 महीने शेष रह गए थे। उसके साथ अन्य विद्यार्थी यह चाहते थे कि वह अपना कोर्स पूरा कर डिग्री लेकर ही भारत जाएं पर मौजूदा हालातों ने यूक्रेन छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया।

यह भी पढ़ें : PSEB ने टर्म-2 परीक्षाओं में विद्यार्थियों के अच्छे प्रदर्शन के लिए उठाया यह कदम

यूक्रेन से लौटी नूरपुरबेदी के गांव जहपुर की छात्रा सिमरनजीत कौर पुत्री हरजीत सिंह ने युद्ध के कारण पैदा हुए हालातों संबंधी जानकारी दी। उसने बताया कि हमले के कारण भारतीय विद्यार्थी भयभीत हैं। वह बंकरों व बेसमैटों में छुप कर जान बचा रहे हैं। उन्हें न तो खाना मिल रहा है और न ही वैटोलेशन व अन्य किसी प्रकार की मेडीकल सुविधा प्राप्त हो रही है। वहीं कपड़ों की कमी के कारण उनका ठंड से बुरा हाल है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News