सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड : पंजाब पुलिस ने पेश की स्टेटस रिपोर्ट, बताया कौन है मास्टरमाइंड

punjabkesari.in Thursday, Jun 16, 2022 - 01:14 PM (IST)

चंडीगढ़ :  पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या मामले को लेकर पंजाब पुलिस की स्टेटस रिपोर्ट सामने आई है। इस स्टेटस रिपोर्ट में पुलिस ने कई बड़े खुलासे किए हैं। पंजाब पुलिस ने इस रिपोर्ट के अनुसार लॉरेंस बिश्नोई को ही घटना का मास्टमाइंड ठहराया है। सूत्रों के मुताबिक पंजाब पुलिस ने चार अन्य शार्पशूटर की पहचान की है। फिलहाल शूटरों का पूरी तरह से खुलासा नहीं किया गया है। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने भी लॉरेंस बिश्नोई को मूसेवाला हत्याकांड का मास्टरमाइंड करार दिया था। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि इस हाई प्रोफाइल हत्याकांड में अब तक 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने भी लॉरेंस को मास्टरमाइंड बताया था।

जिक्रयोग्य है कि 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की गैंगस्टरों ने गोलियां मार कर हत्या कर दी थी, जिसके बाद पुलिस प्रशासन में काफी हलचल मच गई थी। पंजाब सरकार द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए एस.आई.टी. का गठन किया गया, ताकि मामले को जल्द जल्द से सुलझाया जा सके और कातिलों को जल्द से जल्द सलाखों के पीछे भेजा जा सके। जिसके बाद पंजाब पुलिस द्वारा गैंगस्टरों की गिरफ्तारी हेतु लगातार छापेमारी जारी थी। अब पंजाब पुलिस ने जहां हत्या के मेन मास्टरमाइंड लारैंस को रिमांड पर लिया हुआ है, वहीं दूसरी तरफ कनाडा में रह रहे गोल्डी बराड़ को लेकर भी पंजाब पुलिस ने तैयारी शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि पंजाब पुलिस जल्द ही गोल्डी बराड़ पर भी शिकंजा कस सकती है। लारैंस के खिलाफ पंजाब में कई मामले दर्ज हैं। 

पंजाब पुलिस स्टेटस रिपोर्ट
लारैंस बिश्नोई : लारैंस जोकि इस हत्याकांड का मुख्य मास्टरमाइंड है, जिसने तिहाड़ जेल में रहकर ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश रच डाली। लारैंस ने जेल से ही कई बार गोल्डी बराड़ के साथ भी बात की है। 

संदीप केकड़ा : यह वहीं शख्श है, जिसने प्रशंसक बन कर सिर्फ 15000 रुपए के लिए सिद्धू मूसेवाला की रेकी की थी। इसके बाद उसने विदेश में तैनात शार्पशूटर और गैंगस्टरों को पूरी जानकारी दी।

मनप्रीत मन्ना: जेल में बंद गैंगस्टर मनप्रीत मन्ना अपना कोरोला लेकर मनप्रीत उर्फ ​​भाऊ के पास पहुंचा, जिसका इस्तेमाल शार्पशूटरों ने मूसेवाला की हत्या में किया था।

सिराज मिंटू : जेल में बंद गैंगस्टर सिराज मिंटू ने मनप्रीत भाऊ से संपर्क किया। उसने यह कोरोला 2 बदमाशों के सामने मनप्रीत को दे दी। सिराज मिंटू गोल्डी बराड़ और सचिन के करीबी हैं।

मनप्रीत भाऊ : मनप्रीत भाऊ ने मन्ना का भेजा हुई कोरोला गाड़ी ली। फिर सिराज मिंटू के कहने पर उसे अगले दो ठगों के पास ले जाया गया।

प्रभदीप पब्बी : प्रभदीप सिंह पब्बी ने गोल्डी बराड़ के 2 साथियों को पनाह दी। दोनों जनवरी 2022 में हरियाणा से आए थे। दोनों ने मूसेवाला के घर और आसपास की सड़कों पर रेकी की थी। पब्बी की अदालत ने उसे तीन दिन के रिमांड पर लिया है। पुलिस उससे शार्पशूटर का नाम और पता लेने की कोशिश कर रही है।

मोनू डागर : डागर ने गोल्डी बरार के कहने पर मुझे 2 निशानेबाज मुहैया कराए। फिर उन्होंने निशानेबाजों की एक टीम बनाने में उनकी मदद की। जिसने बाद में मुसेवाला की हत्या कर दी।

पवन बिश्नोई और नसीब: दोनों ने बोलेरो गाड़ी को उन शार्पशूटरों तक पहुंचा दिया जिसे मूसेवाला की हत्या में इस्तेमाल किया गया। उन्होंने शार्पशूटर को छिपाने में भी मदद की।

चरणजीत सिंह : यही वही शख्स है, जिसने सिद्धू मूसेवाला के कातिलों को हथियार उपलब्ध करवाए और गाड़ियों की नकली नम्बर प्लेटस उपलब्ध करवाई हैं।
 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News