मोदी जी किसानों के मन की बात सुनकर किसान विरोधी कानून रद्द करोः बैंस

9/28/2020 8:34:31 PM

लुधियाना (कंवलजीत): लोक इन्साफ पार्टी के प्रमुख सिमरजीत सिंह बैंस ने प्रधानमंत्री के रेडियो प्रोग्राम मन की बात पर टिप्पणी करते हुए कहा कि हमें 69 महीनो हो गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात सुनते हुए। जिस दौरान इन्होंने नोटबंदी की, जी.एस.टी. लगाई, पैट्रोलियम पदार्थों पर अंधाधुंध रेट बढाए, कोरोना वायरस की आड़ में लॉकडाउन दौरान प्रवासी मजदूरों को हजारों किलोमीटर पैदल चलाया और उनमें से सैंकडों की संख्या में मौतें भी हुई। जिसका केंद्र सरकार के पास कोई रिकार्ड नहीं और अब किसानों की मर्जी के बिना किसान विरोधी खेती सुधार कानून बना कर उनको शब्जबाग दिखाने की मदन की बात में नाकाम कोशिश कर रहे हैं।

बैंस ने पुरजोर शब्दों में कहा कि मोदी जी हमें पौने 6 साल हो गए ने तुम्हारे मन की बात सुनते हुए, अब आप किसानों और पंजाब वासियों के मन की बात सुनते हुए किसानों की मौत के फरमान यानी खेती सुधार कानून को वापिस ले लें। आप राज्य सरकार के धक्का ना करें, क्योंकि खेती संबंधी कानून बनाने का अधिकार राज्य सरकारों के पास है। बैंस ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर यह किसान विरोधी कानून वापिस ना लिया तो लोक इन्साफ पार्टी किसानों के साथ कंधे से कंधा मिला कर हर तरह का संघर्ष करने के लिए तैयार है।

उन्होने पंजाब के मुख्यमंत्री को अपील की कि अपनी डफली अपना राग छोड कर समस्त पंजाब की किसान जत्थेबंदियों, किसान हितैषी सियासी पार्टियों और भारतीय जत्थेबंदियों को साथ लेकर दिल्ली की तरफ कूच करते हुए केंद्र सरकार की चूलें हिलाने वाला कार्य करो। अगर सियासी पार्टियों और सदस्य किसान संघर्ष के नाम पर अकेले अकेले अपनी रोटियां सेकेंगे तो वह किसानों का नुकसान ही करेंगे। इसके लिए एकत्र हो कर इस किसान विरोधी कानून को रद्द करवाने की तरफ हमला करें।
 


Mohit

Related News