भीषण गर्मी का कहर, पावर कटों के कारण घरों में भी चैन से नहीं बैठ पा रहे लोग

punjabkesari.in Monday, May 02, 2022 - 05:35 PM (IST)

जालंधर : 122 साल का रिकार्ड तोड़ भयानक गर्मी ने अप्रैल में ही कहर मचाया हुआ है, जिसके साथ लोग हाल से-बेहाल हैं। आग बरपाती गर्मी में लोग घरों में से निकलने से संकोच कर रहे हैं परन्तु पावर कटों के कारण लोगों को घरों में भी चैन नहीं मिल रहा। हालात ऐसे बने हुए हैं कि बिजली कट जले पर नमक छिड़कने का काम कर रहे हैं। शहरों में चाहे कट नहीं लगाए जा रहे परन्तु बिजली फाल्ट और रिपेयर के नाम पर लगने वाले लंम-लंबे पावर कटों के साथ लोगों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। शहर के कई इलाकों में रविवार 7 घंटे और इससे अधिक समय तक बिजली कट लगने कारण लोग हाल से -बेहाल रहे, जिस कारण लोग पावरकाम और सरकार की नीतियों को कोसते नजर आए।

लोग सोशल मीडिया पर सरकार को निशाना बना रहे हैं, कई फोटो वायरल हो रही हैं, जिनमें से एक फोटो में एक व्यक्ति बिजली की तारों पर कपड़े सुकाने के लिए डालता नजर आ रहा है। इस फोटो पर कमैंट करते लोगों की तरफ से लिखा जा रहा है कि इस आदमी को बिजली महकमे पर पूरा भरोसा है, वह जानता है कि बिजली जल्द आने वाली नहीं, इसलिए वह बिना किसी डर के बिजली की तारों पर कपड़े सुकाने के लिए डाल रहा है। 

इसके अलावा सोशल मीडिया पर कई तरह की पोस्टें वायरल हो रही हैं। इनमें कहा जा रहा है कि आम आदमी पार्टी की तरफ से चुनाव से पहले जो वायदे किए गए थे, उनमें मुफ्त बिजली साथ-साथ निर्विघ्न बिजली सप्लाई मुहैया करवाने का अहम वायदा किया गया था। सरकार ने मुफ्त बिजली देने का जो ऐलान किया है, वह जुलाई से शुरू होगी, जबकि बिजली कट मुफ्त बिजली देने से 2 महीने पहले ही शुरू हो चुके हैं। 

लोगों का कहना है कि हर रोज बत्ती गुल हो रही है, जिस कारण इन्वर्टरों की बैटरी पूरी तरह चार्ज भी नहीं हो पा रही। आज भी ज़्यादातर लोगों के घरों में लगे इन्वर्टर जवाब दे गए और उनको कई घंटे बिना पंखो की हवा के गुजारने पड़े। इसी तरह माडल टाऊन, वैस्ट और ईस्ट डिविज़न के कई इलाकों में पड़े बिजली के फाल्ट के कारण जनता को ज्यादा दिक्कतें उठानी पड़ीं।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Subhash Kapoor

Related News

Recommended News