सब्जियों के दोगुने हुए भाव, आम जनता परेशान

7/5/2020 11:10:07 AM

मोगा(गोपी राउके): एक ओर गर्मी ने लोगों को हाल बेहाल किया हुआ है, वहीं दूसरी और गर्मी के कारण खेतों में सब्जियों की फसलों के झुलसने के बाद इसके भाव भी दोगुने होने लगे हैं। इस कारण घरेलू रसोई का बजट भी बिगड़ने लगा है, पता चला है कि गर्मियों की मौसमी सब्जियां कददू, बैंगन, तोरियां, भिंडी और करेले सहित अन्य सब्जियों की बेल पिछले 2 हफ्तों दौरान धीरे-धीरे पूरी तरह से सूख गईं, यहीं नहीं गर्मी के कारण कई सब्जियों के खेतों में सब्जियों का नामो निशान ही मिट गया है और किसान इन खेतों में मजबूर होकर धान की फसल लगाने की तैयारी करने लगा है।

जानकारी के अनुसार पिछले एक हफ्ते में थोक में सब्जियों की कीमत 60 से 70 प्रतिशत जबकि परचून में यह भाव 100 प्रतिशत तक भी बढ़ गए हैं। मंडी से सब्जियां लाकर बेचने वाले प्रवासी जोगिन्द्र का कहना था कि चाहे इन दिनों गर्मी के सीजन दौरान सब्जियों के भाव अधिक जाते हैं, परन्तु इस बार बारिश लेट होने के कारण भाव ज्यादा बढ़ गए हैं। उन्होंने कहा कि खेतों में सब्जियों को गर्मी की मार से बचाने के लिए किसानों और मजदूर ने काफी कोशिश की, परन्तु फिर भी सब्जियों को गर्मी ने अपनी चपेट में ले लिया है। घरेलू बगीची में पिछले 4 वर्षों से सब्जियों की काश्त करने वाली ग्रहणी मनजीत कौर बताती हैं कि गर्मी के कारण सब्जियां झुलस गई हैं।

उन्होंने कहा कि कददू और पेठे सहित शिमला मिर्च की फसल पर सबसे अधिक मार गर्मी ने की है। उन्होंने कहा कि कई स्थानों पर देखने में आया है कि सब्जियों को गर्मी की मार से बचाने के लिए ज्यादा पानी लगाया गया है परन्तु पानी ठहरने से फसल की जडें खराब होने के कारण भी सब्जियां खराब हुई हैं। मार्कीट कमेटी मोगा के अधिकारियों ने संपर्क करने पर माना कि पिछले एक हफ्ते दौरान सब्जियों के भाव में वृद्धि हुई है।


Edited By

Sunita sarangal

Related News