कैंसर मरीजों की खुशी के लिए नौजवान ने उठाया अहम कदम, जानने के लिए पढ़ें खबर

punjabkesari.in Monday, Apr 04, 2022 - 05:55 PM (IST)

पठानकोटः कीमोथैरेपी कारण कैंसर के मरीजों के धीरे-धीरे सभी बाल झड़ने शुरू हो जाते हैं जिससे सिर के कुदरती बाल बहुत देर से वापिस आते हैं। कैंसर के सभी मरीज सिर पर डालने के लिए कुदरती बालों से बनी महंगी विग नहीं खरीद सकते। ऐसे मरीजों की खुशी के लिए पठानकोट के रकित महाजन कुछ खास करने का यत्न कर रहे हैं। रकित ने 14 महीनों तक अपने बाल 14 इंच लंबे किए जिनको काट कर उस ने महाराष्ट्र, जहां कैंसर के मरीजों की विगें बनाईं जातीं हैं, वहां भेज दिए।

यह भी पढ़ेंः 'आप' विधायक बरिंदर गोयल को मिली जान से मारने की धमकी

रकित ने कहा कि उसने ऐसा अपने एक कैंसर जान-पहचान वाले शख्स की हालत और मनोदशा देख कर किया है। इन्टरनेट पर खोज करने पर मुझे एक ऐसी संस्था बारे पता लगा जो दान किए कुदरती बालों से विग बनाती है और कैंसर के मरीजों को मुफ्त देती है। रकित ने बताया कि उसे मदद चैरिटेबल ट्रस्ट महाराष्ट्र की तरफ से चलाए गए 'कॉप विद कैंसर' मुहिम बारे पता लगा। संस्था के ई-मेल के द्वारा संबंध कायम कर वहां के नियमों को समझा और जनवरी 2021 में बाल बढ़ाने शुरू कर दिए। 14 महीनों बाद जब उसके बाल लंबे से गए तो उसने उनको कटवा कर उक्त संस्था के नाम पर भेज दिए। रकित ने कहा कि अब यह सिलसिला इसी तरह जारी रहेगा।

यह भी पढ़ेंः 'आप' विधायक बरिंदर गोयल को मिली जान से मारने की धमकी

पठानकोट का रहने वाला रकित महाजन कई सामाजिक संस्थाओं के साथ जुड़ा हुआ है। इनमें से ज्यादातर खून सप्लाई करने वाली संस्थाएं हैं। रकित 18 बार अपना खूनदान कर चुका है। पांच बार वह SDP (सिंगल डोनर पलेटलेट) दान कर चुका है। इसके अलावा वह थैलेसीमियां से पीड़ित बच्चों के लिए अपने बोन मेरो का सैंपल भी दे चुका है। रकित ने बताया कि पिछले वर्ष उसने फोर्टिस अस्पताल में अपने सभी अंग दान करने की सभी प्रक्रियाएं पूरी कर ली हैं। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News