शिक्षा सचिव ने राबिंदर रब्बी की पहली पुस्तक ''ज़िंदगी की वर्णमाला'' की लोकार्पित

10/29/2020 7:17:08 PM

लुधियाना (विक्की) : शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार ने पढ़ो पंजाब पढ़ाओ पंजाब (प्राइमरी) ज़िला रोपड़ के कोआर्डिनेटर राबिंदर सिंह रब्बी द्वारा रचित पहली पुस्तक 'ज़िंदगी की वर्णमाला' को लोकार्पित किया इस अवसर पर उन्होंने राबिंदर सिंह रब्बी को इस बढ़िया कार्य के लिए शुभ -कामनाएँ दीं और भविष्य में साहित्य संसार को ओर क़िताबें देने के लिए भी प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि पंजाब के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों में साहित्य रचना का विलक्षण कौशल है और इनके द्वारा रचित साहित्य नैतिक मूल्यों का ख़जाना है। विद्यार्थियों को स्कूलों में शिक्षा देने के साथ-साथ शिक्षकों द्वारा पंजाबी साहित्य जगत में सराहनीय काम किया जा रहा है।

विभाग द्वारा साहित्यकार शिक्षकों को नैतिक मूल्यों के लिए रचनात्मक साहित्य रचने के लिए प्रोत्साहित करने पर राबिंदर सिंह रब्बी ने शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि 'ज़िंदगी की वर्णमाला' उन की पहली रचना है और अब भविष्य में वह ओर भी पंजाबी साहित्य की क़िताबें पाठकों की झोली डालने के लिए कार्य करते रहेंगे। उन्होंने इस पुस्तक के प्रकाशन के लिए उत्साह देने वाले डा. दविंदर सिंह बोहा स्टेट कोआर्डिनेटर 'पढ़ो पंजाब पढ़ाओ पंजाब', अपनी पत्नी कंवलजीत कौर का भी धन्यवाद किया। इस पुस्तक को लोकार्पित करने के अवसर पर उनके साथ हरपाल बाजक स्टेट रिसोर्स पर्सन शिक्षा विभाग, मनमोहन सिंह भल्लड़ी साहित्यकार और नेशनल अवार्डी, स्टेट अवार्डी विकास वर्मा, लखविंदर सिंह सैनी रूपनगर, राकेश भंडारी, राजिंदर सिंह चानी और अन्य साथियों ने भी बधाई दी।


Aacharya Kamal Nandlal

Related News