पंजाब में सरकारी बसों का चक्का जाम, कर्मचारियों ने सरकार को दी सख्त चेतावनी (Photos)

punjabkesari.in Tuesday, Jun 21, 2022 - 03:10 PM (IST)

लुधियाना (मोहिनी): पंजाब रोडवेज, पनबस और पी.आर.टी.सी. कॉन्ट्रैक्ट वर्कर यूनियन पंजाब द्वारा कच्चे कर्मचारियों का वेतन न देने के विरोध में पंजाब में सभी बस स्टैंड को दो घंटे के लिए बंद किया गया। यूनियन के वर्करों ने 'तनख्वाह नहीं तो काम नहीं, के नारे लगाए। फिरोजपुर कैंट बस स्टैंड पर धरने के दौरान बोलते हुए प्रदेश प्रधान रेशम सिंह गिल, डिपू प्रधान जतिंदर सिंह और सतनाम सिंह सत्ता ने कहा कि कांग्रेस और शिअद-भाजपा सरकार की तरह ही कच्चे कर्मचारियों के लिए अब पहले से भी बुरे हालास आम आदमी पार्टी द्वारा पैदा किए जा रहे है।

PunjabKesari

कर्मचारियों की जायज मांगों व संघर्षों के साथ-साथ अब हर माह पनबस व पी.आर.टी.सीय कर्मचारियों की तनख्वाह भी देरी से अदा की जा रही है। कर्मचारियों ने कहा कि तनख्वाह लेने के लिए भी हड़ताल या रोष प्रदर्शन करने पड़ते हैं। उन्होंने कहा कि दिन-रात मेहनत कर पंजाब की जनता को उनकी मंजिल तक पहुंचाने और लोगों को मुफ्त यात्रा सुविधा मुहैया करवाने वाले इन कर्मचारियों के परिवार आर्थिक तंगी के शिकार हो रहे हैं।

PunjabKesari

इस कारण बस चलाने वाले ड्राइवर-कंडक्टर भी मानसिक तनाव में बसें चलाने को मजबूर हैं। इन हालातों को देखते हुए जथेबंदी द्वारा बार-बार उच्च अधिकारियों और पंजाब के ट्रांसपोर्ट मंत्री से संपर्क करने के बावजूद अब तक वेतन नहीं आया है। इस कारण आज यूनियन द्वारा पंजाब के सभी बस स्टैंडों को 2 घंटे (सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक) के लिए बंद करने का फैसला किया।

PunjabKesari

उन्होंने कहा कि अगर अभी भी वेतन नहीं मिला तो 23 जून को दोपहर 12 बजे से सभी कर्मचारी बसें बंद कर पनबस और पी.आर.टी.सी. का चक्का जाम करेंगे। उन्होंने कहा कि अगले महीने 7 तारीख के बाद गेट रैलियां और 10 तारीख के बाद बस स्टैंड को बंद करने सहित 15 तारिख से 15 तारीख से पूर्ण पंजाब बंद की योजना बनाई जाएगी।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News