खेती बिलों के खिलाफ भड़के कैप्टन की मोदी को चेतावनी, बोले-किसान धरने ना दे तों फिर लड्डू बांटे?

9/28/2020 3:56:07 PM

नवांशहर: स्वतंत्रता सेनानी शहीद भगत सिंह की जयंती पर उनके पैतृक गांव खटकड़ कलां पहुंचे मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने पंजाब के महान सपूत को श्रद्धांजलि भेंट की।

PunjabKesari

यहां किसान विरोधी कानून पर भड़के कैप्टन ने कहा कि पहले केंद्र सरकार किसानों विरोधी बिल लाती है और फिर जब पंजाब का किसान सड़कों पर प्रदर्शन करने के लिए उतरता है तो पूछती है कि पंजाब के किसान ऐसा क्यों कर रहे हैं। कैप्टन ने गुस्से में कहा कि पंजाब के किसान यदि धरने न लगाएं तो फिर क्या लड्डू बांटे।उन्होंने मोदी सरकार को बड़ी चेतावनी देते कहा है कि वह इस मामले को सुप्रीम कोर्ट तक लेकर जाएंगे और पंजाब के किसानों के साथ किसी हालत में भी धक्का नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली वालों को क्या पता कि किसान कैसे  मेहनत करके फ़सल उगाता है और फिर पूरे देश का पेट भरता है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के इन बिलों के लागू होने से किसानों के परिवार भूखे मर जाएंगे।

PunjabKesari
कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने स्पष्ट किया कि जब इन बिलों के बारे समिति बनाई गई थी तो पहली मीटिंग में पंजाब को बुलाया ही नहीं गया था और जब उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को इस बारे लिखा तो दूसरी मीटिंग में पंजाब को फ़सल की ख़रीद-फ़रोख़्त बारे पूछा गया, जिसमें  वित्त मंत्री मनप्रीत बादल पहुंचे थे। कैप्टन ने बताया कि समिति की तीसरी मीटिंग में सिर्फ़ केंद्र का फ़ैसला सुनाया गया और राज्य की कोई सलाह नहीं ली गई। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी अधिकार केंद्र जैसे छीन रही है तो ऐसे राज्य कैसे चलेंगे। उन्होंने कहा कि वह इन खेती बिलों पर चुप नहीं बैठेंगे और किसानों का पूरा साथ देते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाएंगे।


Vatika

Related News