चंडीगढ़ के मुद्दे को लेकर जाखड़ का बड़ा बयान, तंज कसते किया ये Tweet

punjabkesari.in Monday, Apr 04, 2022 - 02:39 PM (IST)

चंडीगढ़: पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ ने चंडीगढ़ के मुद्दे पर बड़ा तंज कसा है। चंडीगढ़ को मरा हुआ मुद्दा बताते जाखड़ ने कहा कि पंजाब और हरियाणा के बीच किसान आंदोलन में बना भाईचारा इस मरे हुए मुद्दे की भेंट चढ़ जाएगा। जाखड़ ने ट्वीट करते हुए लिखा कि इस मामले में पंजाब और हरियाणा आमने-सामने हैं। ऐसे में हमेशा की तरह 2 बिल्लियों की लड़ाई में बंदर बाज़ी मार जाएंगा। हालांकि उनकी बातों में बंदर कौन है। इसको लेकर राजनीतिक गलियारों में चर्चा छिड़ी हुई है।

 

 

The camaraderie,the brotherhood between people of Pb/Hry, reinforced at Singhu/Tikri borders, will be the 1st casualty of rising tempers & acrimony over the 'lost cause’ of Chandigarh as Haryana too convenes a spl session,to give a 'befitting reply' to Punjab.

And winner is - pic.twitter.com/orlXspcAlZ

— Sunil Jakhar (@sunilkjakhar) April 4, 2022

दरअसल, जाखड़ ने कहा कि किसान आंदोलन दौरान सिंघू और टिकरी बार्डर पर पंजाब और हरियाणा के लोगों के बीच भाईचारा स्थापित हुआ था। उन्होंने कहा कि इस मरे हुए मुद्दे की वजह के साथ भाईचारा भड़के हुए जज़बातों की भेंट चढ़ जाएगा। अब हरियाणा भी पंजाब को करारा जवाब देने के लिए विधानसभा सैशन बुला रहा है।

 

क्या है मामला
चंडीगढ़ के मुद्दे पर पंजाब और हरियाणा के बीच टकराव चल रहा है। इसकी शुरुआत केंद्र सरकार की तरफ से चंडीगढ़ के कर्मचारियों पर केंद्रीय नियम लागू करने के साथ हुई है। जिसके बाद एक अप्रैल को पंजाब की ‘आप ’ सरकार ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर चंडीगढ़ पर प्रस्ताव भी के पास कर दिया। इस सबके बीच हरियाणा सरकार ने भी कैबिनेट मीटिंग की और कल विधानसभा का एक दिन का विशेष सत्र बुलाया है। जिसमें चंडीगढ़ ही नहीं बल्कि सतलुज -यमुना लिंक नहर (एस. वाई.एल.) और हिंदी भाषी इलाके हरियाणा को देने का प्रस्ताव पास हो सकता है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News