जालंधर में DC ऑफिस के बाहर जलाई कृषि कानूनों की कापियां

1/13/2021 5:31:41 PM

जालंधर (सोनू): लोहड़ी का पवित्र त्यौहार किसानों द्वारा आज कृषि कानूनों की कापियां जलाकर मनाया गया। दिल्ली में बैठे किसान सांझा मोर्चा के आदेश के बाद आज पंजाब भर में कृषि कानूनों की कापियां जलाई गई हैं।

PunjabKesari

इसके चलते जालंधर में भारतीय किसान यूनियन राजेवाल के सदस्यों ने डी.सी. ऑफिस के सामने प्रदर्शन करते हुए कृषि कानूनों की कापियां जलाई। इस मौके भारतीय किसान यूनियन राजेवाल के प्रवक्ता कश्मीर सिंह और किसान नेता अमरजोत सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों के कारण उनको यह पवित्र त्यौहार इस तरह से मनाने पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि जब तक केंद्र सरकार यह कानून वापिस नहीं लेते, वह इसी तरह से प्रदर्शन करते रहेंगे। 

PunjabKesari

गौरतलब है कि किसानों का धरना प्रदर्शन आज 49वें दिन में प्रवेश कर गया है। दिल्ली के सिंघू, टिकरी, गाजीपुर सीमा पर किसान कड़ाके की ठंड में डटे हुए हैं। कल सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद किसान जत्थेबंदियों के नेताओं ने प्रैस कांफ्रेंस करके साफ कर दिया है कि उनका आंदोलन जारी रहेगा।

PunjabKesari

आज यानि बुधवार को लोहड़ी के मौके पर किसान जत्थेबंदियों द्वारा कृषि कानून की कापियां जलाई जाएंगी। साथ ही 26 जनवरी के दिन शांति से ट्रैक्टर मार्च निकालने की बात कही है। हालांकि इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट ने भी किसानों को नोटिस जारी किया है। यह मसला अब सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुना जाएगा।

PunjabKesari

सुप्रीम कोर्ट ने नए कृषि कानूनों के नेता होने पर रोक लगा दी है। कानूनों पर रोक लगने के बाद भी किसान अपनी जिद पर अड़े हुए हैं कि वह आंदोलन खत्म नहीं करेंगे। दरअसल, अदालत ने सरकार और किसानों में किसानी मसले को निपटाने के लिए 4 सदस्यी कमेटी का गठन कर दिया है, अब उसको लेकर बहस छिड़ गई है। किसान जत्थेबंदियां का आरोप है कि कमेटी में शामिल चारो लोग- भूपिंदर सिंह मान, डॉ. प्रमोद कुमार जोशी, अशोक गुलाटी और अनिल घनवट कृषि कानूनों का समर्थन कर चुके हैं।


Mohit

Recommended News