चल रही नाजायज माइनिंग को लेकर पंचायत पर FIR दर्ज

punjabkesari.in Friday, May 20, 2022 - 01:53 PM (IST)

नंगल: पंजाब सरकार राज्यों में चल रहे गैर-कानूनी कामों को लेकर सख्ती के साथ पेश आ रही है। इसके साथ ही सभी मंत्री और विधायक भी एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। हाल ही में नंगल के गांव मजारी की पंचायत और अन्य भी कई लोगों खिलाफ पंचायती जमीन पर नाजायज माइनिंग करने कारण केस दर्ज किए गए हैं। इस मामले बारे जे.ई. की तरफ से जानकारी मिलने के बाद नंगल पुलिस ने केस दर्ज किया है। जानकारी अनुसार गांव मजारी में पंचायती जमीन पर करीब 20 फुट की खुदाई करके नाजायज माइनिंग की जा रही थी। इस बारे पता लगने पर पुलिस ने कार्यवाही शुरू की थी। हैरानीजनक बात है कि यह मामला मंत्रिमंडल के माइनिंग मंत्री हरजोत सिंह बैंस के विधान सभा हलके साथ सम्बन्धित है। 

नंगल पुलिस थाने में दर्ज एफ.आई.आर. नंबर 65 के अंतर्गत जे.ई. रोहत कुमार की तरफ से 17 मई को सवा नहर में पंचायती जमीनों का दौरा किया था। उनको पता लगा क्या इस जमीन पर नाजायज तरीके से खुदाई का काम किया जा रहा है। मौके पर मौजूद गांव वासियों का भी यही कहना था कि यह नाजायज माइनिंग पंचायत की मिलीभगत के साथ की जा रही है। पत्रकारों के साथ बातचीत करते जे.ई. रोहत ने बताया कि गांववासियों की तरफ से इसकी शिकायत रोपड़ के एस.एस.पी को की गई थी और उनकी तरफ से इसकी एक कापी विभाग को भी भेजी गई थी। शिकायत के अंतर्गत विभाग ने इसकी जांच करने के लिए मजारी गांव की पंचायती जमीनों का दौरा किया। इस दौरान पता लगा कि जमीन पर करीब 20 फुट से ज्यादा की खुदाई की गई थी। इसके खिलाफ फिर पंचायत और अन्य भी कइयों पर मामला दर्ज किया गया है।

शिकायत दर्ज कराने वाले ने पंचायत पर लगाया दोष
शिकायत करने वाले जसवीर सिंह ने दोष लगाते कहा कि पिछली सरकार के कार्यकाल में और विधान सभा मतदान दौरान भी गांव की पंचायती जमीन पर नाजायज माइनिंग की गई थी। गांववासियों ने उस समय पर भी इसकी शिकायत की थी। उन्होंने बताया कि 5-6 महीने पहले भी नाजायज माइनिंग करने वालों की मशीनों को जब्त करके मौजूदा पंचायत के हवाले की गई थीं परन्तु पंचायत ने कोई बनती कार्यवाही नहीं की। गांव के पूर्व सरपंच शिव कुमार ने कहा कि गांव वालों ने इकठ्ठा होकर इसकी शिकायत भी की थी। 

सियासी बदलाखोरी के चलते की गई कार्रवाई
गांव की मौजूदा सरपंच कुलविन्दर कौर के पति ने कहा कि वह तो आप नाजायज माइनिंग के खिलाफ हैं और इस मामले में उन्होंने 21 नवंबर 2021 में एक शिकायत भी दर्ज करवाई थी। इसके बावजूद विभाग ने कोई कार्यवाही नहीं की थी। उन्होंने इसको राजनीतिक बदलाखोरी करार देते कहा कि उसके खिलाफ राजनीतिक रंजिश कारण यह मामला दर्ज करवाया गया है। उन्होंने कहा कि मुझे शक है कि जो लोग मतदान हार चुके हैं यह शिकायत उनकी तरफ से की गई है। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News