विधानसभा चुनाव: हरसिमरत कौर बादल ने विरोधियों पर साधा निशाना, कही यह बात

punjabkesari.in Sunday, Feb 20, 2022 - 03:17 PM (IST)

लंबी (जुनेजा) : बठिंडा से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने आज पंजाब में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 2017 में कांग्रेस पार्टी ने लोगों से झूठे वादे किए और आम आदमी पार्टी से मिलीभगत करके सरकार बनाई। इस दौरान कांग्रेस की सरकार बनी और आम आदमी पार्टी विपक्ष की नेता बनी। लोग इस सीमावर्ती राज्य के लिए एक मजबूत क्षेत्रीय पार्टी की सरकार चाहते हैं जो राज्य के सामने आने वाली चुनौतियों से निपट सके। हरसिमरत कौर बादल अपने परिवार के साथ वोट डालने के लिए गांव बादल पहुंचीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में मुख्यमंत्री चन्नी और अन्य लोग सी.एम. बनने के लिए खींचातान चल रही हैं और एक भी वादा पूरा नहीं किया गया। उन्होंने आम आदमी पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि यह उसके सांसदों और विधायकों की गारंटी नहीं है। उनकी पार्टी के 4 सांसदों में से 3 ने पार्टी छोड़ दी और 20 में से 11 विधायकों ने पार्टी छोड़ दी।

बीबी हरसिमरत कौर ने कहा कि केजरीवाल के अलगाववादी दलों से संबंध हैं और उनकी मदद से चुनाव जीतना चाहती हैं। केजरीवाल खुद 2017 में कट्टरपंथी नेता के घर पर रुके थे। पार्टी के शीर्ष नेता पार्टी के अलगाववादियों से संबंधों की बात कर रहे हैं। अब पाकिस्तान एक बार फिर पंजाब में अराजकता फैलाने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस समय पूरे देश में और विशेष रूप से सीमावर्ती राज्यों में राष्ट्रीय सुरक्षा का मुद्दा है जहां ड्रोन हर दिन ड्रग्स और हथियारों के साथ आ रहे हैं। पंजाब के लोग आतंकवाद और काले दिनों को नहीं भूले हैं। इसलिए सिर्फ उनकी पार्टी ही पंजाब में मजबूत सरकार दे सकती है और 100% अकाली दल वापसी कर रहा है। उन्होंने नवजोत सिद्धू पर हमला बोलते हुए कहा कि 18 साल तक सरकार में विभिन्न पदों पर रहने के बाद पंजाब एक ऐसा मॉडल पेश कर रहा है जिसने उनके निर्वाचन क्षेत्र में एक भी काम नहीं किया। ऐसे नेताओं को जनता हरा देगी।

PunjabKesari

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News