इग्नू ने दी पंजाब के वालंटियर अध्यापकों को बड़ी राहत

10/9/2019 2:58:56 PM

चंडीगढ़(भुल्लर): पंजाब के सरकारी स्कूलों में पिछले 10-12 सालों से अलग-अलग श्रेणियों के अंतर्गत 5 हजार से लेकर 10 हजार रुपए के वेतन पर काम कर रहे 13 हजार वालंटियर अध्यापकों को इंदिरा गांधी नैशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) ने एन.टी.टी. का टैस्ट देने के लिए राहत प्रदान की है। 

उल्लेखनीय है कि इस टैस्ट के लिए अंतिम तिथि बीत चुकी थी परंतु वालंटियर अध्यापकों की मांग के मद्देनजर शिक्षा विभाग पंजाब द्वारा एन.टी.टी. के लिए अर्जियां लेने की तिथि बढ़ाने के लिए इग्नू को पत्र लिखा गया था। इस पर विचार करने के बाद इग्नू ने एन.टी.टी. के लिए पंजाब के वालंटियर अध्यापकों के लिए अर्जियां देने की तारीख बढ़ाकर 10 अक्तूबर कर दी। इग्नू को पंजाब के शिक्षा विभाग से संबंधित एस.सी.ई.आर.टी. के डायरैक्टर की तरफ से लिखे पत्र में बताया गया था कि राज्य सरकार सरकारी स्कूलों में प्री-प्राइमरी क्लासें शुरू कर रही है। प्री-प्राइमरी क्लासों के लिए राज्य में अस्थाई तौर पर काम कर रहे वालंटियर अध्यापकों को रैगुलर पोस्टों पर भर्ती करने की योजना है।

पत्र में कहा गया कि रैगुलर पोस्टों पर भर्ती के लिए वालंटियर अध्यापकों को अपने स्किल में विस्तार करने के लिए एन.टी.टी. पास करने की शर्त रखी गई है। याद रहे कि वालंटियर अध्यापकों की यूनियनों की पिछले दिनों शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला से मीटिंग हुई थी, जिसमें प्री-प्राइमरी क्लासों में उनका स्केल बढ़ाकर रैगुलर पोस्टों पर भर्ती करने का फैसला हुआ था। यूनियन नेताओं ने कहा कि अब उन्हें सेवाएं रैगुलर होने की उम्मीद बंधी है। उन्होंने वालंटियर अध्यापकों से एन.टी.टी. के लिए समय पर अप्लाई करने के लिए कहा है। 


Vatika

Related News