अगर इंसाफ ना मिला तो पुलिस की नौकरी से दूंगा इस्तीफा: ASI जगदीश

5/17/2020 10:16:06 PM

जलालाबाद (सेतिया, सुमित): गत दिवस शहर मन्नेवाला रोड पर एक पुलिस मुलाजिम से संगठन नेता की हुई तीखी व बेजुबानी के बाद पुलिस मुलाजिम द्वारा दर्ज करवाए मामले को रद्द करने की मांग को लेकर एक संगठन द्वारा दी जा रही संघर्ष की चेतावनी के बाद जहां पुलिस प्रशासन सुस्त नजर आ रहा है। वहीं शनिवार रात को बाइक सवार दो अज्ञातों ने उक्त मुलाजिम के घर में दाखिल होने की भी कोशिश की परंतु दूसरी ओर मुलाजिम द्वारा हवाई फायर करने के बाद उक्त हमलावर वापिस भाग गए जिन्हें आस पास रहते लोगों ने अपनी आंखों से देखा। उधर घटना की जानकारी मिलने के पश्चात करीब आधे घंटे बाद थाना सिटी से पीसीआर के मुलाजिम मौके पर पहुंचे। परंतु इस हमले की कोशिश के बाद उक्त पुलिस मुलाजिम ने अपने ही विभाग के खिलाफ काफी नाराजगी जाहिर की है। 

मीडिया को इस घटना संबंधी जानकारी देते हुए एएसआई जगदीश सिंह ने बताया कि वह विभाग पंजाब पुलिस कार्यालय एसएसपी फाजिल्का में तैनात है व 11 मई 2020 को विभाग के निर्देशों में उसकी ड्यटी मन्नेवाला रोड नजदीक फाटक पुल पर नाका ड्यूटी पर तैनात थी व 3-4 व्यक्तियों से नरिंदर ढाबा ने सील किए रास्ते से निकलने की जिद करते हुए उससे तलखी भरे शब्दों का उपयोग किया व ड्यूटी में विघ्न डाला व धमकियां भी दी। जिसके बाद उसने थाना सिटी में मुकदमा दर्ज करवाया परंतु आज 7 दिन बीत जाने के बाद आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया व आरोपियों के हौंसले इतने बढ गए हैं कि सोशल मीडिया पर लगातार मुझे व परिवार को कार्रवाई से पीछे हटने के लिए धमकियां दी जा रही है। उसने बताया कि यदि एक पुलिस मुलाजिम से हुई ज्यादति पर उसे इन्साफ नहीं मिल रहा तो समाज में रहते आम लोग इन्साफ की उम्मीद कहां से लगाएंगे। 

PunjabKesari

उसने बताया कि आरोपियों के बढते हौंसले का परिणाम है कि शनिवार की रात करीब 9.10 बजे जब वह घर में परिवार सहित मौजूद था तो किसी व्यक्ति ने घर के बाहर बैल मारी व जब वह अंदर से गेट के पास गया तो बाहर कोई नजर नहीं आया व जब उसने दीवार की ओर देखा तो एक अज्ञात व्यक्ति दीवार पर चढ़ रहा था व एक बाइक के पास खड़ा था। इस दौरान उसने शोर मचाया और वह अपनी घर की छत पर चढ़ गया व अपनी लायसेंसी बंदूक से हवाई फायर किया व हवाई फायर करने के बाद वह फरार हो गए। इस घटना के बाद आसपास लोग एकत्रित हुए व उन्होंने घटना संबंधी जानकारी ली। जगदीश सिंह ने चेतावनी दी कि यदि उसे इन्साफ न मिला व आरोपियों को गिरफ्तार न किया तो पुलिस विभाग से इस्तीफा दे देंगे व यदि उस पर या उसके परिवार पर दोबारा हमला होता है तो इसके जिम्मेवार नामजद आरोपी होंगे। 

उधर इस संबंधी जब एसएसपी हरजीत सिंह फाजिल्का के साथ बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि जगदीश सिंह एएसआई के साथ नामजदों की जुबानी तलखी हुई थी व इसमें कोई घायल नहीं था व जो कानूनी कार्रवाई बनती थी। उस अनुसार मामला दर्ज किया गया है व शनिवार रात को अज्ञातों ने पुलिस मुलाजिम के घर दाखिल होकर हमला करने की कोशिश जो की है इस संबंधी डीएसपी जलालाबाद की ड्यूटी लगा रहे हैं व जल्दी ही आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करवाई जाएगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Mohit

Recommended News

static