महिला चेयरपर्सन मनीषा गुलाटी ने पुलिस वालों को जमकर लगाई फटकार

punjabkesari.in Friday, Feb 25, 2022 - 10:18 AM (IST)

जालंधर (सोनू): महिला आयोग की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने जालंधर में महिलाओं के घरेलू विवादों को लेकर शिकायतें सुनीं और उनको हल करने का भरोसा दिया। इस दौरान मनीषा गुलाटी ने पुलिस वालों की भी जमकर क्लास लगाई। उन्होंने कहा है कि महिला आयोग नीचे वूमेन सेल में शिकायतों को मार्क करके हल करने के लिए भेजता है जिससे वूमेन सेल में काउंसलिंग के जरिए घरों को टूटने से बचाया जा सके। दुर्भाग्य की बात यह है कि पुलिस सरदर्दी से बचने के लिए सीधे एफ.आई.आर. दर्ज कर रही है।

यह भी पढ़ें : यूक्रेन में फंसे गुरदासपुर और फिरोजपुर के विद्यार्थी, चिंता में डूबे बच्चों के मां-बाप

मनीषा गुलाटी ने कहा है कि यदि सीधे एफ.आई.आर. दर्ज करनी है तो फिर वूमेन सेल किसके लिए है। इसमें अलग स्टाफ रखा गया है। यदि वूमेन सेल के पास स्टाफ कम है तो भी बता दो, वह स्टाफ बढ़ा देंगे। उन्होंने कहा कि आयोग का काम घरों को जोड़ना है न कि तोड़ना। मनीषा गुलाटी ने कहा है कि लड़कियां सीधे एफ.आई.आर. दर्ज होने के बाद उनके पास पहुंच रही हैं। जब उन्हें केस रजिस्टर्ड करवाने बारे पूछा जाता है तो आगे से सुनने को मिलता है कि अयोग्य की अधिकता ने केस रजिस्टर करने को आदेश दिया था।

यह भी पढ़ें : ड्रग मामले में अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को इस जेल में किया शिफ्ट

उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग के कुछ लोग उनके नाम का दुरुपयोग कर रहे हैं। उन्होंने चेतावनी दी है ऐसे आधिकारियों का वह पता लगाकर उन पर बनती कार्यवाही करेगी। इसके साथ ही महिलाएं के घरेलू विवाद की सबसे ज्यादा शिकायतें जालंधर, लुधियाना, मोगा और फिरोजपुर से आ रही हैं। 

यह भी पढ़ें : डेरा ब्यास की संगत के लिए अहम खबर, डेरा प्रमुख 2 साल बाद करेंगे सत्संग

उन्होंने कहा है कि इन शिकायतों की लाइन इसलिए लंबी होती जा रही है क्योंकि उनके वूमेन सेल के अधिकारी कर्तव्य ढंग के साथ नहीं कर रहे। यदि वह निश्चय मामला निपटा देते हैं तो लोगों को कौंसलिंग कर उनको मोटीवेट करे जिससे कि आगे उन तक शिकायतें पहुंच ही न सकें।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News