राखी से पहले इकलौते भाई का बेरहमी से कत्ल, मातम में बदली खुशियां

punjabkesari.in Thursday, Aug 11, 2022 - 01:58 PM (IST)

मुल्लांपुर दाखा: यहां के गांव रकबा में  राखी के त्योहार की खुशियां  उस समय मातम में बदल गई, जब दो बहनों के इकलौते भाई की बेरहमी से हत्या कर दी गई.। मृतक की मां के बयान और घटनास्थल से कुछ दूरी पर मोटरसाइकिल की पहचान मिलने के बाद दाखा पुलिस ने एक अप्रवासी युवक और उसके अज्ञात साथियों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

 

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी अजीतपाल सिंह ने बताया कि मृतक युवक जतिंदर सिंह की मां स्वर्ण कौर घरों में काम करती है और उसकी दो बेटियां और एक बेटा था। दोनों बेटियों शादिशुदा है और बेटा जतिंदर सिंह सबसे छोटा था और खेती करता था। उन्होंने कहा कि वह रोजाना गुरुद्वारा साहिब, गांव रकबा में पूजा-अर्चना करने जाते थे। गत रात भी वह मोटरसाइकिल से घर के बाहर माथा टेकने गया लेकिन रात होने तक वापस नहीं लौटा।

बाद में उन्हें पता चला कि उसके बेटे की लाश गुरुद्वारा साहिब के रास्ते में स्टेडियम के गेट के पास सड़क पर पड़ी है। जब वहां जाकर देखा कि जतिंदर सिंह के सिर में चोट लगी है और सिर से काफी खून बह रहा । वहीं घटनास्थल पर खड़ी मोटरसाइकिल  प्रवासी राजेश कुमार की है, जोकि मृतक के गांव में रहता था। मृतक की मां ने बताया कि उसे पूरा यकीन है कि उसके बेटे का कत्ल राजेश कुमार ने अपने साथियों के साथ मिलकर किया है। फिलहाल पुलिस ने जांच शुरू कर दी हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News