अब फर्राटेदार अंग्रेजी बोलेंगे सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी

10/12/2020 9:26:42 AM

लुधियाना(विक्की): पंजाब के सरकारी स्कूलों में पढ़ते छठी से 12वीं कक्षाओं के विद्यार्थियों के गुणात्मक विकास के लिए एक अनूठी पहल के रूप में एक अंग्रेजी बूस्टर क्लब की स्थापना करने का निर्णय लिया गया है जिसका उद्देश्य छात्रों में अंग्रेजी भाषा के उच्चारण के साथ-साथ भाषा कौशल में निपुणता लाने के लिए संकोच और भय को ख़त्म करना है। क्लब का गठन 12 अक्तूबर से किया जा रहा है।

स्टेट रिसोर्स पर्सन चंद्रशेखर ने बताया कि पिछले कुछ समय के दौरान निजी स्कूलों में से बहुत सारे विद्यार्थी हटकर सरकारी स्कूलों में दाखिल हुए हैं और उनके माता-पिता को सरकारी स्कूलों में पंजाबी, हिंदी और अंग्रेजी भाषा के अनुभवी शिक्षकों और उनकी पढ़ाने की विधियों में विश्वास प्रकटाया है। इसी विश्वास को कायम रखने के लिए सरकारी स्कूलों के अंग्रेजी शिक्षकों ने बूस्टर क्लब बनाने की अनूठी पहल की है। आज से शुरू होंगे बूस्टर क्लब: अंग्रेजी के जिला मेंटर्ज ने बताया कि सरकारी स्कूलों में दाखिले बढ़ाने के समय जब वे निजी स्कूलों में पढ़ते बच्चों के माता.पिता से बात करते थे तो सुनने को मिलता था कि सरकारी स्कूलों के अध्यापक अंग्रेजी में बच्चों की पकड़ मजबूत नहीं करवा सकते। जब उन्होंने अन्य अंग्रेजी शिक्षकों से बात की तो उन्होंने इस मुद्दे को एक चुनौती के रूप में लिया। स्कूलों में बच्चों को ऑनलाइन अंग्रेजी पाठ्यक्रम करवाते हुए धाराप्रवाह अंग्रेजी बोलने के लिए प्रोत्साहित किया जिससे उन्हें इन स्थितियों में भी अच्छे परिणाम मिले और बूस्टर क्लब बनाने की सोच बनी जिसके सम्बन्ध में अंग्रेजी शिक्षकों द्वारा 12 अक्तूबर से बूस्टर क्लब शुरू किए जा रहे हैं। जिला मेंटर्ज और ब्लाक मेंटर्ज द्वारा अंग्रेजी बूस्टर क्लब के अंतर्गत करवाई जाने वाली गतिविधियों की रूपरेखा भी तैयार कर ली गई है।

स्कूल, ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर बनेंगे बूस्टर क्लब
ब्लॉक मेंटर ने कहा कि बूस्टर क्लब स्थापित करने का काम 2 चरणों में किया जाएगा जिसका पहला चरण एक महीने के लिए हो गया जिसके तहत स्कूल, ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर बूस्टर क्लब स्थापित किए जाएंगे और इस क्लब में शामिल बच्चों को ऑडियो और अन्य शिक्षण सहायक सामग्री का उपयोग करके स्थिति के अनुसार सरल वाक्य बोलने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। इसमें स्कूल की छठी से 12वीं कक्षा के हर सैक्शन में से 3.3 विद्यार्थियों को शामिल किया जाएगा और बाद में इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी। ये विद्यार्थी अपनी इच्छा अनुसार बूस्टर क्लब में शामिल हो सकेंगे। 


Vatika

Related News