पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मनीचेंजर की दुकान पर लूट के मामले में 2 गिरफ्तार

punjabkesari.in Tuesday, Jun 14, 2022 - 05:23 PM (IST)

फगवाड़ा(जलोटा): फगवाड़ा के गांव रिहानां जट्टां के पास पिछले दिनों मनीचेंजर (जी के इंटरनेशनल वेस्टर्न यूनियन) की दुकान पर हुई लूट के मामले का पर्दाफाश करते हुए फगवाड़ा पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर शातिर गैंग का पर्दाफाश किया है। उल्लेखनीय है कि पंजाब केसरी (फगवाड़ा कपूरथला केसरी) द्वारा पिछले दिनों खबर प्रकाशित की गई थी कि फगवाड़ा पुलिस के लिए पांच दिन बीत जाने के बाद भी लूट का यह मामला बड़ा रहस्य बना हुआ है। जानकारी के मुताबिक पंजाब केसरी में छपी इस खबर के बाद फगवाड़ा पुलिस तुरंत हरकत में आई और यह उसी का परिणाम रहा है कि आज इस मामले में शामिल डकैत गिरोह का फगवाड़ा पुलिस ने पर्दाफाश किया है।

फगवाड़ा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए एसएसपी कपूरथला राज बचन सिंह ने एसपी फगवाड़ा हरिंदरपाल सिंह डीएसपी आश्रु राम शर्मा, थाना रावलपिंडी के एसएचओ इंस्पेक्टर बलविंदर सिंह और सीआईए स्टाफ फगवाड़ा प्रभारी सिकंदर सिंह की मौजूदगी में बताया कि पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान सिमरनजोत सिंह पुत्र गुरदीप सिंह वासी अजनोहा थाना मेहटियानां और अजमेर सिंह पुत्र रंजीत सिंह वासी गांव भबियानां हाल वासी नंगल रोड़ नजदीक ट्रक यूनियन गढ़शंकर है। उन्होंने बताया कि आरोपियों से मनीचेंजर की दुकान से लूटे गए लैपटॉप , 55000 रुपए कैश,दो कारें सहित मौके पर दुकान के मालिक की मारपीट करने में इस्तेमाल हुआ तेजधार दात्तर बरामद किया गया है।

उन्होंने बताया कि आरोपी सिमरनजोत सिंह को अदालत में पेश कर तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। एसएसपी कपूरथला सिंह ने बताया कि लूट में आरोपियों के दो अन्य साथी हरकमल सिंह पुत्र जोगा सिंह वासी रेहानां जट्टां और मन्ना वासी अपरा शामिल रहे हैं जो अभी भी पुलिस की गिरफ्तारी से बाहर है। आरोपी हरकमल सिंह रिहानां जट्टां का रहने वाला है। उन्होनें कहा कि मनीचेंजर की दुकान पर की गई लूट को पूरी तरह से रेकी के बाद अंजाम दिया गया था। उसने इलाके की रेकी कर मनीचेंजर की दुकान पर लूट की योजना को अंजाम देने में अहम रोल अदा किया है। लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी गांव रेहानां जट्टां से स्विफ्ट कार में सवार होकर फगवाड़ा की ओर फरार हुए थे। इस दौरान आरोपियों ने कई जगह पर अपने रास्तों को बदला था। आरोपी अजमेर सिंह भारतीय फौज से सेवानृवत्त हुए रिटायर्ड सूबेदार का बेटा है और उसके पिता ने बुरी संगत में होने के कारण उसे बेदखल किया हुआ है। एसएसपी ने कहा कि डकैत गैंग के आरोपियों हरकमल सिंह और मन्ना की तलाश में पुलिस की टीमें छापेमारी कर रही हैं और पुलिस बहुत जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर लेगी। पुलिस की जांच जारी है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News