फाइनेंसर के साथ मारपीट व लूट की घटना को ऐसे दिया था अंजाम, ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे

10/13/2021 1:05:44 PM

सुल्तानपुर लोधी (सोढ़ी) : सुल्तानपुर लोधी के नामी फाइनेंसर जसविंदर सिंह की 28 सितंबर को दिनदहाड़े पिटाई व लूट की घटना को सुल्तानपुर लोधी पुलिस ने गहन जांच के बाद सुलझा लिया है। इस मामले में 2 आरोपित सुरजीत सिंह उर्फ ​​सुख पुत्र बलकार सिंह निवासी भंडाल, थाना खालरा, हाल निवासी ग्राम कोटला, थाना वल्टोहा (तरनतारन) व एक अन्य प्रभदीप सिंह उर्फ ​​प्रभा पुत्र निर्मल सिंह निवासी वार्ड नंबर 2 खेमकरण (जिला तरनतारन) को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इस संबंधी आज सुल्तानपुर लोधी में की गई प्रैस कॉन्फ्रैंस दौरान सुल्तानपुर लोधी क डी.एस.पी. सरवण सिंह बल्ल ने बताया कि सीनियर कप्तान कपूरथला  हरकमलप्रीत सिंह खख के दिशा-निर्दशों पर लूट अपराधियों को पकड़ने के लिए सुल्तानपुर लोधी थाने के एस.एच.ओ. हरजीत सिंह के नेतृत्व में अभियान के तहत पुलिस पार्टी 29 सितंबर 2021 को मामला संख्या 269, धारा 323, 341, 506, 379,149 भ.द. के तहत दर्ज मामले को ट्रेस करने में सफल रही है। उन्होंने बताया कि फाइनेंसर जसविंदर सिंह पुत्र दर्शन सिंह निवासी अलादाद चक ने सुल्तानपुर लोधी द्वारा दायर एक मुकद्दमे में कहा था कि वह 28 सितंबर को अपने एक्टिवा स्कूटर में काम करने जा रहा था, जब क्राइस्ट ज्योति कॉन्वेंट स्कूल, सुल्तानपुर लोधी के पास एक कार आई-20 उसका पीछा कर रही थी, जिसमें से 2 युवक आए। उनके चेहरे ढके हुए थे और उन्होंने उसे पीटना शुरू कर दिया।

जब वह भाग कर पीछे निकलने लगे तो एक अन्य सकोडा कार आई, जिसमें से 2-3 अन्य युवक मुंह बांध कर में लाठियां लेकर बाहर आए और उसकी पिटाई कर उसकी जेब से 17,600 रुपए, एक मोबाइल फोन सैमसंग और उसके सोने की हीरे की अंगूठी छीन कर फरार हो गए। डी.एस.पी. बल्ल ने बताया कि इस मुकद्दमें की जांच दौरान 11 अक्तूबर 2021 को एस.एच.ओ. हरजीत सिंह खुढीया जानकारी के आधार पर आरोपियों की तलाश में ताशपुर मौड चौक (थाना सुल्तानपुर लोधी) में स्पैशल नाकाबंदी करके मुकद्दमा में आवश्यक कार नंबर डी.एल. 6 सी.एम. 2269 रोका।  इसमें 2 युवकों सुखबीर सिंह उर्फ ​​सुख व प्रभदीप सिंह उर्फ ​​प्रभा को गिरफ्तार कर पूछताछ की। यह दोनों युवकों ने गुरप्रताप सिंह उर्फ लाडा पुत्र गुरदयाल, सिंह निवासी गांव चीमा कलां, थाना सदर पट्टी के कहने पर फाइनेंसर जसविंद्र सिहं से मारपीट की वारदात की थी। 

इस बारे में और खुलासा करते हुए डी.एस.पी बाल और थाना प्रभारी हरजीत सिंह ने बताया कि मुख्य आरोपी गुरप्रताप सिंह उर्फ ​​लाडा की चचेरी बहन कमलजीत कौर की शादी अमेरिका में अलादाद चक्क निवासी वादी जसविंदर सिंह के साले लक्की से हुई थी। लक्की ने किसी बात को लेकर कमलजीत कौर को छोड़ दिया था
 और इसी वजह से कमलजीत कौर को डिप्रेशन की वजह से लकवे का दौरा पड़ा था। जसविंदर सिंह की पत्नी भी इस मामले में अपने भाई की मदद कर रही थी। बल ने आगे कहा कि गुरप्रताप सिंह उर्फ ​​लाडा ने पता लगाने पर जसविंदर सिंह से बात की थी, लेकिन गुरप्रताप सिंह नाराज था क्योंकि उसने जसविंदर सिंह की बात नहीं मानी। वे 2 कारों में सुल्तानपुर लोधी आए, फाइनेंसर जसविंदर सिंह के साथ मारपीट की और जसविंदर सिंह का फोन छीन लिया।


डी.एस.पी. बाल ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी से प्रारंभिक पूछताछ के अनुसार एक चोरी का सैमसंग ए-70 मोबाइल फोन, स्कोडा ग्रे कार नंबर डीएल मिला है। 6 CM2269 और सफेद कार I-20 नंबर पी.बी. 06, ए.सी. 0022 भी बरामद किया गया है। उन्होंने कहा कि पुलिस रिमांड मिलने के बाद आगे की पूछताछ की जाएगी और फाइनेंसर से चोरी की गई नकदी और हीरे की अंगूठी के बारे में भी पूछताछ की जाएगी। उन्होंने कहा कि घटना में 7-8 आरोपी शामिल थे और जांच के बाद उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिस की छापेमारी के चलते बाकी आरोपी अपने घरों से फरार हो गए हैं। सब इंस्पेक्टर परमजीत सिंह और बलकार सिंह भी उस समय मुख्य सचिव थे।

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sunita sarangal

Related News

Recommended News