राहुल और कैप्टन ने ली शपथ, काले कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए केंद्र को कर देंगे मजबूर

10/18/2020 10:05:55 AM

जालंधर (धवन): पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ मिलकर शपथ ली कि वह केंद्र सरकार को काले कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए मजबूर कर देंगे जिसके बारे सोमवार को विधानसभा के विशेष सत्र में चर्चा करके किसानों को इन कानूनों के खतरनाक प्रभाव से बचाने का रास्ता ढूंढा जा सके। उन्होंने घोषणा की कि उनकी सरकार काले कानूनों से किसानों को बचाने के लिए हरसंभव कदम उठाएगी। कैप्टन अमरेन्द्र ने कहा कि वह अपने शेष जीवन का प्रत्येक दिन पंजाब को पुनर्जीवित करने के लिए लगाना चाहते हैं।

कैप्टन अमरेन्द्र ने घोषणा की कि उनकी सरकार गांवों में लम्बे समय से लाल धागा जमीन पर बसे लोगों को जमीन के स्वामित्व का अधिकार देने का फैसला जल्द लेगी। सरकार जल्द ही इस कार्य के लिए मिशन लाल लकीर को लांच करने जा रही है।

मुख्यमंत्री द्वारा बुलाए गए विशेष सत्र का स्वागत करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि किसानों की आवाज को संसद में दबाया गया परंतु पंजाब विधानसभा तथा देश के कोने-कोने में यह आवाज खुलकर बोलेगी ताकि केंद्र सरकार को कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए विवश किया जा सके। 

कांग्रेस भारत की आधारशिला को कमजोर नहीं होने देगी राहुल ने घोषणा की कि कांग्रेस भारत की आधारशिला को किसी भी तरह से कमजोर नहीं होने देगी। उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा इससे पहले लिए गए फैसलों को देश की अर्थव्यवस्था के लिए ध्वस्त करार देते हुए कहा कि इससे देश में बेरोजगारी बड़़े पैमाने पर बढ़ी है।

भाजपा किसानों को खत्म करने पर तुली: जाखड़
पंजाब कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि भाजपा किसानों तथा कृषि क्षेत्र को खत्म करने पर तुली हुई है। राज्य सरकार को अपने अधिकार क्षेत्र में किसानों के हितों की रक्षा के लिए हरसंभव कदम उठाना होगा।


Tania pathak

Related News