पंजाब में इमीग्रेशन सलाहकारों और आईलेट्स सेंटरों के लिए जल्दी बनाई जाएगी एस.ओ.पी

punjabkesari.in Thursday, Dec 09, 2021 - 04:45 PM (IST)

चंडीगढ़: पंजाब सरकार जल्दी ही राज्यों में इमीग्रेशन सलाहकारों और आईलेट्स केन्द्रों के लिए विनियम ढांचा तैयार करने के लिए विदेशों के इमीग्रेशन विभागों के सहयोग के साथ एक स्टेंडर्ड ऑपरेटिंग प्रक्रिया (एस.ओ.पीज) का नक्शा तैयार करेगी। इस संबंध में फैसला उपमुख्यमंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा और तकनीकी शिक्षा और रोजगार डेवलपमेंट मंत्री राणा गुरजीत सिंह की अध्यक्षीय में हुई उच्च स्तरीय मीटिंग दौरान लिया गया। यह मीटिंग रोजगार डेवलपमेंट, हुनर विकास और प्रशिक्षण विभाग और गृह मामले विभाग, पंजाब की तरफ से सांझे तौर पर करवाई गई। 

यह भी पढ़ेंः पूर्व SDM अनूप्रीत कौर खिलाफ मामला दर्ज, ऐसे की लाखों की ठगी

मीटिंग का नेतृत्व करते उपमुख्यमंत्री और तकनीकी शिक्षा मंत्री ने पंजाब में इमीग्रेशन सलाहकारों को विनियम करने, फर्जी विवाहों को रोकने और बायोमेट्रिक के लिए आगामी समय (अप्वाइंटमेंट) लेने में चल रही धांधली जैसे मुद्दों को रोकने के लिए एस.ओ.पी. बनाने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होंने यह भी कहा कि आईलेट्स टैस्ट करवाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय संस्था आई.डी.पी. एजुकेशन लिमिटेड के साथ तालमेल करके एक नीति भी तैयार की जाएगी। उपमुखमंत्री रंधावा ने कहा कि राज्यों के नौजवान विदेश जा रहे हैं और पंजाब सरकार उनको एक सुचारू कानूनी ढांचा मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है, जिसके द्वारा वह धोखों के साथ पैसे ठगने वाले इमीग्रेशन सलाहकारों के शिकार होने से बच सकें और उनको विदेश जाने के लिए कोई गैर-कानूनी रास्ता इख्तियार न करना पड़े। उन्होंने कहा कि नौजवानों की ट्रैवल एजेंटों के हाथों हो रही लूट को रोकने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः SSP विजीलैंस के घर पर चोरों ने किया हाथ साफ, मामला दर्ज

राणा गुरजीत सिंह ने कहा कि यह संस्था पंजाब सरकार के तकनीकी शिक्षा विभाग की निगरानी में टैक्नीकल यूनिवर्सिटियों में आईलेट्स प्रशिक्षण और टेस्टिंग केंद्र स्थापित करने में सहायता करेगी जिससे प्राईवेट आईलेट्स केन्द्रों को नियमत किया जा सके। इस मौके गृह विभाग के प्रमुख सचिव अनुराग वर्मा, रोजगार डेवलपमेंट, हुनर विकास और प्रशिक्षण विभाग के प्रमुख सचिव दलीप कुमार, तकनीकी शिक्षा और औद्योगिक प्रशिक्षण के प्रमुख सचिव राज कमल चौधरी, रोजगार डेवलपमेंट, हुनर विकास और प्रशिक्षण विभाग के डायरैक्टर एम.के. अरविन्द कुमार, उपमुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव वरुण रूजम, आई.जी. क्राइम गौतम चीमा, सलाहकार डा. संदीपप सिंह कड़वा और अन्य भी उपस्थित थे। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News