बीज घोटाले का मुख्य दोषी सीधे तौर पर मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह : बीर दविंदर

punjabkesari.in Wednesday, Jun 03, 2020 - 09:39 AM (IST)

पटियाला: पंजाब विधानसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर और शिरोमणि अकाली दल टकसाली के सीनियर उपाध्यक्ष बीर दविंदर सिंह ने कहा कि पंजाब में हुए नकली बीज घोटाले का दोषी सीधे तौर पर मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह हैं क्योंकि वह खेतीबाड़ी मंत्री भी हैं। इसके लिए किसी अन्य मंत्री को दोष देना जायज नहीं है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह खुद सिसवां फार्म में आनंद ले रहे हैं, जबकि उनके पास 3 दर्जन के लगभग विभाग हैं जो सीधे तौर पर यू.पी., बिहार और अन्य राज्यों के आई.ए.एस. अफसर देख रहे हैं। मुख्यमंत्री को अपने विभागों के बारे कुछ पता नहीं, जिस करके उनके विभागों में लगातार घोटाले होते जा रहे हैं। पहले एक्साईज विभाग में नकली शराब घोटाला, अब खेतीबाड़ी विभाग में नकली बीज घोटाला। उन्होंने कहा कि यह बीज घोटाला 4 हजार करोड़ से अधिक का बताया जा रहा है। बहुत दुख की बात है कि शिरोमणि अकाली दल केवल अपने राजनैतिक उद्देश्य की पूर्ति के लिए ब्यानबाजी कर रहा है।

चीफ सैक्रेटरी के मामले पर वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल को खामोश करने के लिए शिरोमणि अकाली दल के प्रधान व पूर्व डिप्टी मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल लगातार तीखे हमले करते रहे, जबकि अब बिक्रम सिंह मजीठिया नकली बीज घोटाले मामले में सहकारिता मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा पर हमला बोल कर बात घुमाने की कोशिश कर रहे हैं। शिरोमणि अकाली दल मुख्यमंत्री को इस का दोषी क्यों नहीं मान रहा जबकि कै. अमरेंद्र सिंह ही खेतीबाड़ी मंत्री हैं। कै. अमरेंद्र सिंह ही एक्साईज मनिस्टर हैं, जिससे स्पष्ट होता है कि बादल और अमरेंद्र सिंह मिले हुए हैं। उन्होंने कहा कि शिरोमणि अकाली दल टकसाली मांग करता है कि इस मामले की हाईकोर्ट से उच्च स्तरीय जांच करवाई जाए ताकि स‘चाई सामने आ सके। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Vatika

Related News

Recommended News