2 देशों से गुजरे नगर कीर्तन के चढ़ावे का हिसाब दे शिरोमणि कमेटी : भाई रणजीत सिंह

10/22/2019 8:43:41 AM

लुधियानामुल्लांपुरी): श्री अकाल तख्त साहिब के पूर्व जत्थेदार भाई रणजीत सिंह ने आज पंजाब केसरी के साथ विशेष बातचीत करते हुए श्री अकाल तख्त के जत्थेदार और शिरोमणि कमेटीं से मांग की है कि वह श्री ननकाना साहिब (पाक) की धरती से शुरू हुए प्रकाश पर्व सम्बन्धित नगर कीर्तन जो भारत के विभिन्न स्थानों में सिख संगत को दर्शन-दीदार के बाद आने वाले चंद दिनों में श्री सुल्तानपुर लोधी पहुंचने जा रहा है, उसके चढ़ावे का हिसाब दे क्योंकि हजारों किलोमीटर के इस नगर कीर्तन में करोड़ों संगत ने करोड़ों रुपए श्रद्धा के तौर पर भेंट किए होंगे।

भाई रणजीत सिंह ने कहा कि इससे पहले कि चढ़ावे को लेकर किंतु-परंतु हो, शिरोमणि कमेटी और जत्थेदार शताब्दी समारोह मनाने उपरांत इस सबके बारे में जानकारी सिख कौम को दें। इससे पहले भी कई मामले उस समय सामने आए थे जब पाकिस्तान में शिरोमणि कमेटी अस्तित्व में नहीं आई थी। उस समय पर अमृतसर वाली कमेटी पाकिस्तान के गुरु पर्वों पर विदेशी सिख संगत के दान किए डॉलर, पौंड, और अन्य कीमती सामान लेकर आती रही परन्तु कभी हिसाब नहीं दिया। वह हैरान हैं कि कैसे शिरोमणि कमेटी ने इस नगर कीर्तन को अंतर्राष्ट्रीय नगर कीर्तन कहकर पैसे कमाने का  जरिया बना लिया है जिसका संगत को अब हिसाब देना पड़ेगा। 


Vatika

Related News