मुफ्त स्मार्टफोन देने का वादा करने वाले ऑनलाइन धोखेबाजों के झांसे में न आएं स्टूडेंट्स

8/14/2020 6:42:03 PM

लुधियाना (विक्की): राज्य में पंजाब स्मार्ट कनेक्ट स्कीम शुरू हुए अभी दो दिन ही हुए हैं कि स्कीम के नाम पर कुछ असमाजिक तत्वों ने फर्जीवाड़ा शुरू दिया है। सोशल मीडिया पर कुछ शरारती तत्वों ने स्कीम का फायदा लेने के लिए पहले ऑनलाइन  रजिस्ट्रेशन करवाने के नाम पर स्टूडेंट्स को झांसे में फंसाने का प्रयास शुरू कर दिया है। लेकिन सरकार तक यह सूचना पहुंचते ही शिक्षा मंत्री विजय इन्द्र सिंगला ऐसे शरारती तत्वों के खिलाफ आगे आ गए हैं। सिंगला ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करके लोगों को सचेत किया कि वह ‘पंजाब स्मार्ट कनैक्ट स्कीम’ के अधीन मुफ्त में स्मार्टफोन देने का वादा करने वाले ऑनलाइन धोखेबाजों के झांसे में न आएं।

वाट्सऐप और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर घूम रहे फर्जी संदेशों का गंभीर नोटिस लेते हुए सिंगला ने कहा कि ‘पंजाब स्मार्ट कनैक्ट स्कीम’ सिर्फ सरकारी स्कूलों के 12वीं कक्षा के लड़के एवं लड़कियों के लिए हैं और उनको सरकारी स्कूलों में दाखिले के आधार पर मुफ्त में स्मार्टफोन मुहैया करवाए जा रहे हैं। इसलिए अन्य लोगों को ऐसी स्कीम के दायरे में लाने का सवाल ही पैदा नहीं होता।

सरकार ने नहीं शुरू की ऐसी कोई वेबसाइट 
शिक्षा मंत्री ने जोर देकर कहा कि राज्य सरकार ने ऐसी कोई वेबसाइट या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की शुरुआत नहीं की जिस पर स्मार्टफोनों के लिए रजिस्ट्रेशन हो रहे हों। उन्होंने ऑनलाइन धोखेबाजों को साईबर क्राइम रोकथाम कानूनों के अधीन गंभीर नतीजे भुगतने की चेतावनी दी है। उन्होंने लोगों को कहा कि मोबाइल संदेश या वाट्सऐप के द्वारा फैलाए जा रहे ऐसे संदेशों और यू.आर.एल. लिंक पर क्लिक न करें, जहां सरकार द्वारा मुफ्त स्मार्टफोन देने के लिए रजिस्ट्रेशन करने के लिए कहा गया हो।


Mohit

Related News