सुखबीर में दिख रहे हैं गंभीर बीमारी से पीड़ित होने के लक्षण: बीर दविंद्र

punjabkesari.in Thursday, Oct 01, 2020 - 09:33 AM (IST)

चंडीगढ़(रमनजीत): शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल द्वारा दिग्गज नेता सुखदेव सिंह ढींडसा के खिलाफ इस्तेमाल किए गए शब्दों को पंजाब विधानसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर बीर दविंद्र सिंह ने अति अनुचित और उत्तेजक बयान करार दिया है। बीर दविंद्र सिंह ने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि सुखबीर बादल किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं, क्योंकि किसी परिपक्व व अनुभवी राजनेता से ऐसे शब्दों की उम्मीद नहीं कर सकते, बशर्ते वो किसी व्यवहार संबंधी विकार वाले रोग से गंभीर रूप से बीमार न हो।

बीर दविंद्र सिंह ने कहा कि सुखदेव सिंह ढींडसा राज्यसभा सदस्य हैं और शिरोमणि अकाली दल (लोकतांत्रिक) के अध्यक्ष हैं और सबसे बड़ी बात वह अकाली राजनीति में सुखबीर बादल से कई वर्ष पहले से हैं। बीर दविंद्र ने कहा कि जैसे लक्षण सुखबीर बादल में दिख रहे हैं, उनके बारे में हैल्थ फिटनैस शब्दावली में एच.पी.डी. (हिस्टेरिक पर्सनैलिटी डिस्आर्डर) के तौर पर लिखा गया है।  बीर दविंद्र ने कहा कि जब से वो सुखबीर बादल से पहली बार मिले थे, तब से उनके व्यवहार पर ध्यान दे रहे हैं। उनमें पूर्ववर्ती व्यक्तिवाद, अस्थिर भावनाओं के साथ घुलामिला व अपनी ही विकृत आत्म-छवि के साथ अविश्वास मौजूद है।

यह सब निश्चित तौर पर विकृतियां हैं। ऐसे व्यक्तित्व वाले लोग अक्सर अपने द्वारा किए गए कार्यों से आत्मविश्वास के लिए दूसरों की सराहना चाहते हैं। ऐसे व्यक्ति अक्सर ही अपना स्टैंड बदलते रहते हैं, जैसा कि सुखबीर सिंह बादल द्वारा कृषि बिलों के बारे में अपने पहले के वक्तव्यों से यू-टर्न लेते हुए किया गया है। बीर दविंद्र ने कहा कि पहले 4 महीने तक जिन कृषि बिलों की सराहना करते रहे अब उन्हीं के खिलाफ प्रदर्शन करते फिर रहे हैं। ऐसे लोगों को सहानुभूति, क्षमा की जरूरत है, क्योंकि असल में ऐसे लोग एच.पी.डी. बीमारी से ग्रसित होते हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Vatika

Related News

Recommended News