बेशर्मी की हद: अपाहिज महिला के साथ की यह हरकत, पुलिस फिर भी खामोश

1/20/2021 2:33:49 PM

लुधियाना: टिब्‍बा के गोल्‍डन एवेन्‍यू कालोनी में 2 पक्षों में हुए विवाद का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी वायरल हो रहा है, जिसमें एक दबंग कई लोगों की मौजूदगी में एक महिला को ताबड़ तोड़ थप्‍पड़ जड़ रहा है और अंत में मार न झेलती हुई वह महिला लड़खड़ा कर नीचे गिर जाती है। यह पीड़ित महिला रीना गुप्‍ता है, जोकि एक पैर से अपाहिज है।

आरोप है कि पीड़ित महिलाओं को इंसाफ दिलाने के बड़े-बड़े दावे करने वाली लुधियाना पुलिस रीना के साथ ज्‍यादती करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की बजाय उस पर ही समझौते का दबाव बना रही है। जिससे मजबूर होकर पीड़ित महिला ने पति मनोज गुप्‍ता व अपने अन्‍य समर्थकों के साथ टिब्‍बा थाने के बाहर मंगलवार को रोष प्रदर्शन करते हुए इंसाफ की मांग की।

पुलिस पर आरोपियों से मिलीभगत का आरोप
इलाका पुलिस पर आरोपियों के साथ मिलीभगत का आरोप लगाते हुए रीना ने कहा कि वह गरीब है। उसका पति करियाने की दुकान चलाता है, जबकि आरोपी पैसे वाले हैं, जिनको राजनैतिक संरक्षण प्राप्‍त है। इसलिए पुलिस उनकी सुनवाई नहीं कर रही है। वह और उसका पति कार्रवाई की मांग को लेकर पिछले 4 दिनों से थाने के चक्‍कर लगा रहा है, लेकिन पुलिस कोई न कोई बहाना बनाकर टाल देती है और अगले दिन आने को कहती है। उल्‍टा उन पर समझौते के लिए तरह-तरह के दबाव बना रही है।

मनोज ने बताया कि आरोपी उसके पड़ोस में रहते है, जिनकी महिलाओं के साथ बच्‍चों के गली में खेलने को लेकर उसकी पत्‍नी की नोंक-झोंक हो जाती थी। 4 दिन पहले फिर आपस में महिलाओं की कहासुनी हो गई। उसकी पत्‍नी का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने बच्‍चों को बोला था कि वह आगे जाकर खेलें, लेकिन इस बार आरोपियों ने हद ही पार कर दी।

गली में सरेआम जड़ दिए 8-10 थप्पड़
उसका आरोप है कि उन भाइयों ने फोन करके बाहर से 10-12 गुंडे टाइप के लोग बुला लिए। जो गली में खड़े होकर उसकी पत्‍नी व बुजुर्ग माता-पिता को भद्दी गालियां देते हुए धमकाने लगे। उसकी पत्‍नी ने मोबाइल पर उनकी वीडियो बनानी चाही तो एक आरोपी ने सरेआम उसकी पत्‍नी के 8-10 थप्‍पड़ जड़ दिए। जमीन पर गिरने से उसकी पत्‍नी के सिर में भी चोट आई है। उसने बताया कि आरोपी की यह करतूत सी.सी.टी.वी. में कैद हो गई। जिसकी क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वह पुलिस के समक्ष सभी सबूत पेश कर चुके है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

दूसरी तरफ थाना प्रभारी इंस्‍पैक्टर मोहम्‍मद जमील ने पुलिस पर लगाए गए तमाम आरोपों को सिरे से नकाराते हुए कहा कि मामले की निष्‍पक्ष जांच की जा रही है। जो पक्ष कसूरवार पाया गया उसके खिलाफ अवश्‍य कार्रवाई होगी। उधर काफी प्रयासों के बावजूद दूसरे गुट का पक्ष नहीं जाना जा सका।


Tania pathak

Recommended News