पंजाब में तय समय से पहले मानसून की Entry, जारी हुआ अलर्ट

6/14/2021 4:45:18 PM

चंडीगढ़(पाल) : 3 दिन से शहर में अच्छी बारिश हो रही है। रविवार को मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि चंडीगढ़ के साथ मानसून ने पंजाब व हरियाणा के उत्तरी हिस्सों को भी कवर कर लिया है। मानसून के आगे बढऩे के लिए सभी स्थितियां बनी हुई हैं। पंजाब व हरियाणा के बाकी हिस्से को मानसून अगले 48 घंटे में कवर कर लेगा।

आमतौर पर चंडीगढ़ में मानसून जून के आखिरी सप्ताह और जुलाई के पहले हफ्ते में आता है। पिछली बार मानसून 24 जून को आया था। जबकि साल 2019 में  5 जुलाई को मानसून ने दस्तक दी थी। हालांकि मौसम विभाग ने यह भी कहा कि सब कुछ मानसून की गति पर निर्भर करता है। लेकिन इस बार बंगाल की खाड़ी में बने लो प्रैशर एरिया के प्रभाव से मानसून ने तय समय से पहले दस्तक दे दी है। मानसून आने के बाद बारिश का सिलसिला 16 जून तक जारी रह सकता है। मौसम विभाग ने बताया है कि अगले तीन दिन आंधी तूफान के साथ बारिश होने की संभावना बनी हुई है। खासकर 15 जून को सबसे ज्यादा बारिश होने के चांस हैं। मौसम में अचानक हुए इस बदलाव ने शहर का अधिकतम पारा 5 डिग्री कम कर 33.9 डिग्री तक पंहुचा दिया है। 3 दिन पहले पारा 41.9 डिग्री तक पहुंच गया था। वही न्यूनतम तापमान भी रविवार को 3 डिग्री कम होकर 21.7 डिग्री सैल्सियस रिकार्ड हुआ।  वही ह्यूमिडिटी 68 प्रतिशत रिकार्ड हुई जबकि दिन में 7.4 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं शहर में चली।  4 घंटे में 20.6 एम.एम. बारिशरविवार सुबह से 5.35 से 9.20 बजे तक शहर में बारिश हुई। 4 घंटे में 20.6 एम.एम. बारिश रिकार्ड की गई है, जबकि शनिवार को 47.2 एम.एम. बारिश हुई थी। पूरे जून में अभी तक 106.7 एम.एम. बारिश हो चुकी है। पिछले कई साल के आंकड़े देखें तो पता चलता है कि जून के पहले हफ्ते में अभी तक अ‘छी बारिश दर्ज हो चुकी है।

आंधी की संभावना, अलर्ट जारी  
अगले 48 घंटों के दौरान चंडीगढ़ सहित पंजाब, हरियाणा में कई जगहों पर लाइट से मॉडरेट (1-3 से.मी.)  के साथ भारी बारिश (6-7 से.मी.) की संभावना है। इस दौरान बिजली और तेज हवाएं (30-50 कि.मी. प्रति घंटे चलने) की संभावना है, जबकि 15 और 16 जून को आंधी के साथ अच्छी बारिश होने के आसार बहुत ज्यादा हैं, जिसमें (1-5 से.मी.) भारी से बहुत भारी बारिश (7-12 से.मी.) कई जगह हो सकती है। साथ ही गरज के साथ ओलावृष्टि और (50-60 कि.मी. प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं) चलने की संभावना है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Recommended News

static