सरकार बदलने के साथ नगर कौंसिल के अध्यक्ष बदलने की भी छिड़ी चर्चा

punjabkesari.in Monday, Mar 14, 2022 - 04:21 PM (IST)

बरनाला (विवेक सिंधवानी, रवि): राज्यों में हुई विधान सभा मतदान के बाद आम आदमी पार्टी ने झाड़ू फेर जीत प्राप्त की है और पार्टी प्रधान भगवंत मान की तरफ से 16 मार्च को मुख्यमंत्री के पद के लिए शपथ ग्रहण की जा रही है। 'आप' के सत्ता में आने के बाद नगर कौंसिल की अध्यक्षता को लेकर भी जोड़-तोड़ की राजनीति शुरू हो चुकी है। जिला बरनाला में 5 नगर कौंसिलें बरनाला, तपा, भदौड़, हंडियाया और धनौला पड़ती हैं। इस समय पर सभी नगर कौंसिलों पर कांग्रेस पार्टी के समर्थक प्रधान नियुक्त हैं।

यह भी पढ़ेंः नवजोत सिद्धू के इस्तीफा देने से पहले ही कांग्रेस ने लिया बड़ा एक्शन, शुरू की यह तैयारी

नगर कौंसिल बरनाला में इस समय पर अध्यक्षीय पद पर गुरजीत सिंह रमनवासिया, नगर कौंसिल भदौड़ में मनीष गर्ग, नगर कौंसिल तपा में काला भूत, नगर कौंसिल हंडियाया में अश्विनी आशु और नगर कौंसिल धनौला में बीबी रणजीत कौर सोढी बतौर प्रधान नियुक्त हैं। जिलों की तीनों विधान सभा सीटों पर आम आदमी पार्टी के विधायकों का कब्जा हो चुका है। हलका बरनाला से गुरमीत सिंह मीत हेयर, भदौड़ से लाभ सिंह उग्गोके और महलकलां से कुलवंत सिंह पंडोरी चयन जीत चुके हैं और इनमें से हलका बरनाला के विधायक मीत हेयर का कैबिनेट में जाना भी लगभग तय है।

यह भी पढ़ेंः 5वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए अहम खबर, Date Sheet में आया नया बदलाव

राज्य में पहली बार आम आदमी पार्टी की सरकार बनने जा रही है जिससे उत्साहित हो कर 'आप' वर्करों की तरफ से भी नगर कौंसिल पर आम आदमी पार्टी के काऊंसलर को प्रधान बनाने के लिए जुगलबंदी शुरू कर दी गई है। नगर कौंसिल बरनाला की बात करें तो यहां 'आप' की टिकट पर 3 नगर काऊंसलर चयन जीते थे जिनमें से एक नगर काऊंसलर को आम आदमी पार्टी में से निकाल दिया गया था और मौजूदा समय में 'आप' की टिकट पर जीते 2 नगर काऊंसलर हैं। इनमें से रुपिन्दर शीतल जो विधायक मीत हेयर के नजदीकी साथी हैं, के साथियों की तरफ से उनको प्रधान बनाने के लिए अंदरखाते जुगलबंदी शुरू कर दी गई है जिस तरह बीते दिनों अमृतसर नगर निगम के 16 नगर कौंसलरों ने आम आदमी पार्टी का पल्ला पकड़ा है, उसी तरह दूसरे स्थानों पर भी नगर काऊंसलर आम आदमी पार्टी का पल्ला पकड़ सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः भगवंत मान के शपथ ग्रहण समारोह के लिए 8 जिलों से भेजी जाएंगी फायर ब्रिगेड की गाड़ियां 

नगर कौंसिल बरनाला के कुछ नगर काउंसलरों के साथ बात करने पर उन्होंने माना कि उनके पास अध्यक्षीय की वोटों के लिए 'आप' के हक में खड़े रहने के लिए पेशकश आई है और साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अब 5 वर्ष आम आदमी पार्टी की सरकार है और उन्हें अपने वार्ड का काम करवाना है इस लिए उन्हें अपने वार्ड के लोगों की बेहतरी के लिए जो भी उचित लगेगा, वह वही फैसला लेंगे। नगर कौंसिल के प्रधान को कुर्सी से उतारने के लिए दो-तिहाई बहुमत की जरूरत होती है और यदि प्रधान खुद ही इस्तीफा दे दे तो नया प्रधान बनाने के लिए अर्ध से अधिक सदस्यों की जरूरत होती है। अब भविष्य में क्या होगा, यह तो समय ही बताएगा परन्तु आम आदमी पार्टी की जीत से उत्साहित होकर एक बार वर्करों ने तैयारी जरूर खींच दी है। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News