सिविल अस्पताल के बाहर आटो चालक ने की बदमाशी, रिक्शा वाले को जमीन पर पटका

punjabkesari.in Wednesday, Aug 10, 2022 - 09:55 AM (IST)

जालंधर (शौरी): सवारी उठाने को लेकर देर शाम सिविल अस्पताल के मेन गेट के बाहर एक बदमाश आटो चालक ने रिक्शा चालक की सरेआम जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान आटो चालक ने रिक्शा वाले को जमीन पर कई बार पटक-पटक भी दिया। आसपास के लोगों ने बड़ी मुश्किल के साथ घायल रिक्शा चालक को बचाया।

उक्त घायल रिक्शा चालक अजीत कुमार यादव पुत्र राम नरेश निवासी बिहार हाल तेज मोहन नगर बस्ती शेख ने बताया कि वह सवारी लेने के लिए सिविल अस्पताल के बाहर खड़ा था और इसी बीच सवारी उसके पास आई तो आटो चालक सवारी को धक्के से अपनी गाड़ी में बैठाने लगा। सवारी उसकी रिक्शा पर सवार होना चाहती थी। विरोध करने पर आटो चालक ने उस पर हमला कर दिया।

गौर हो कि सिविल अस्पताल के बाहर दोपहर के समय दर्जनों के हिसाब से आटो चालक खडे़ होकर सवारियां न मिलने तक खडे़ रहते हैं, जिस कारण ट्रैफिक जाम होने के साथ कई बार एम्बूलैसों को भी ट्रैफिक में फंस जाती हैं। यदि कल को किसी गंभीर मरीज ट्रैफिक जाम में फंस गया और उसकी जान चली गई तो इसका जिम्मेदार कौन होगा? सिविल अस्पताल के अधिकारियों ने कई बार पुलिस को पत्र भी लिखे है कि सुबह से लेकर शाम तक यहां ट्रैफिक पुलिस जवान तैनात होना चाहिए।

ए.एस.आई. ने की घायल की मदद

वहीं मारपीट में घायल हुए रिक्शा चालक अजीत के पास एम.एल.आर. कटवाने के लिए सरकारी फीस के 300 रुपए नहीं थे। पीड़ित ने कहा कि सिविल अस्पताल के एमरजैंसी वार्ड पहुंच कर 10 रुपए की पर्ची कटवाई ताकि उसका उपचार हो सकें, लेकिन जैसे ही डाक्टर ने उसकी पर्ची पर सरकारी फीस जमा करवाने को कहा तो बेचारा उदास हो गया। इसी बीच अस्पताल में तैनात ए.एस.आई. दलबीर सिंह ने उसे उदास देखा और उसकी कहानी सुनी तो ए.एस.आई. ने अपनी जेब से 300 रुपए देकर उसकी एम.एल.आर. कटवाने में मदद की।

एम.एल.आर. लेकर अजीत खुश हुआ और पुलिस वाले को दुआए देते हुए अपनी अगली कानूनी कार्रवाई करवाने के लिए थाना 4 पहुंचा। एस.एच.ओ. कमलजीत सिंह का कहना है कि आटो का नंबर उनके पास आ गया है और वह सख्त एक्शन लेंगे।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News