वर्क परमिट की जगह टूरिस्ट वीजा पर मलेशिया भेजा युवक

7/3/2020 12:23:35 PM

जालंधर(कमलेश): थाना नई बारादरी में ग्रैंड मॉल के ग्राऊंड लोर में स्थित द इंग्लिश हब के मालिक सुशील जगराल खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ है। केस दर्ज करवाने वाले हरीश कपूर का आरोप है कि सुशील जगराल ने वर्क परमिट की जगह उसे टूरिस्ट विजा पर मलेशिया भेज दिया जहां पर 7 माह तक वह परेशान होता रहा लेकिन अस्थाई नौकरी के दौरान पड़ी इमीग्रेशन की रेड में वह पकड़ा गया और वापस भारत आ गया। 

पुलिस को दी शिकायत में हरीश कपूर पुत्र इंद्रजीत कपूर निवासी कमल बिहार ने बताया कि अक्टूबर 2017 में उसने मलेशिया जाने के लिए द इंग्लिश हब के मालिक सुशील जगराल को वर्क परमिट पर भेजने के लिए डेढ़ लख रुपए दिए। हरीश ने विदेश जाने के लिए बैंक से 2 लाख का लोन लिया जिसमें से सुशील को पैसे दिए गए। 4 नवंबर 2017 उसकी मलेशिया की टिकट करवा दी और कहा कि तीन-चार दिनों के बाद उसे मलेशिया में ही उसका एक एजैंट मिलेगा जो उसका नौकरी से लेकर हर एक काम पूरा करेगा। हरीश ने आरोप लगाया कि मलेशिया पहुंचकर उसे पता लगा कि वह टूरिस्ट वीजा पर आया है। सुशील जगराल द्वारा दिए गए मलेशिया के एजैंट के मोबाइल नंबर पर काफी बार संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उसने फोन ही नहीं उठाया और कई दिनों तक एक कमरे में बैठा कर रखा। काफी दिन बीत जाने के बाद राजवीर नाम के एक एजैंट का फोन आया जिस ने कहा कि वह कुछ ही दिनों में उसका वर्क परमिट लगवा देगा। 

आरोप है कि राजवीर उसे मिला और झांसे में लेकर पासपोर्ट भी ले गया। काफी दिन बीत जाने के बाद वर्क  परमिट न आने पर जब हरीश ने राजवीर पर दबाव बनाया तो राजवीर ने एक अस्थाई नौकरी लगवा दी। हरीश का आरोप है कि 8 महीने तक वह इसी नौकरी के चलते परेशान भी होता रहा। उसको सैलरी भी 2 माह बाद मिली जिसमें से 1 माह की सैलरी राजवीर ने खुद अपने पास रख ली। 9 जुलाई 2018 को हरीश कपूर जिस कमरे में रह रहा था वहां पर इमीग्रेशन की रेड हो गई, जिसमें काफी लोग पकड़े गए और हरीश को भी वहां की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 9 अगस्त 2018 को जिस कंपनी में हरीश काम करता था उन्होंने किसी तरह हरीश को वापस इंडिया भेज दिया। 

इस सारे मामले की शिकायत पुलिस को दी तो लंबी जांच के बाद थाना बारादरी में सुशील जुगराल पुत्र राजेश कुमार निवासी अर्जुन नगर के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य कई धाराओं अधीन केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी सुशील अभी फरार है।


Vaneet

Related News