पंजाब में 3 साल में 18 HIV संक्रमित बच्चों का जन्म, एक की गई जान

punjabkesari.in Saturday, Dec 02, 2023 - 10:01 AM (IST)

चंडीगढ़: पंजाब में तीन साल के आंकड़ों की मानें तो बचाव की तमाम कोशिशों के बावजूद मां के पेट से 18 एच.आई.वी. संक्रमित बच्चों ने जन्म लिया और एक बच्चे की तो जान तक चली गई।  पंजाब स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी द्वारा प्रदेश के कोने-कोने में एच.आई.वी. से बचाव को लेकर चलाए जा रहे अभियान और गर्भवतियों की इंटीग्रेटेड काऊंसलिंग एंड टैस्टिंग सैंटर्स में करवाए जा रहे टैस्ट, उपलब्ध करवाए जा रहे उपचारों के बाद भी एच.आई.वी. संक्रमित मांओं से उनके गर्भस्थ शिशुओं तक एच.आई.वी. वायरस को फैलने से पूरी तरह से रोक नहीं पा रहे। पंजाब में भी नैशनल एड्स कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक गर्भवती की एच.आई.वी. की जांच नियमित तौर पर की जा रही है।

लुधियाना, अमृतसर में सर्वाधिक एच.आई.वी. संक्रमित हुईं गर्भवती
पंजाब स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी के आंकड़ों की मानें तो वर्ष 2022-23 के दौरान लुधियाना में सर्वाधिक एच.आई.वी. संक्रमित महिलाओं ने गर्भधारण किया। दूसरे स्थान पर अमृतसर और तीसरे नंबर पर मोगा जिला रहा। लुधियाना में एच.आई.वी. संक्रमित 87 महिलाएं गर्भवती हुई, अमृतसर में 53 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाओं की पहचान हुई, मोगा में 43 गर्भवती महिलाएं एच.आई.वी. संक्रमित मिली। बङ्क्षठडा से 40 गर्भवती, फिरोजपुर से 42 गर्भवती, जालंधर से 34 गर्भवती, पटियाला से 29 गर्भवती, मुक्तसर से 27 गर्भवती, फाजिल्का से 25 गर्भवती, तरनतारन से 24 गर्भवती, फरीदकोट से 22 गर्भवती, संगरूर से 20 गर्भवती, कपूरथला से 19 गर्भवती, मानसा से 15 गर्भवती, गुरदासपुर से 15 गर्भवती, होशियारपुर से 11 गर्भवती, मलेरकोटला से 9 गर्भवती, फतेहगढ़ साहिब से 8 गर्भवती, नवांशहर से 8 गर्भवती, बरनाला से 7 गर्भवती, मोहाली से 7 गर्भवती, रूपनगर से 6 गर्भवती, पठानकोट से 6 गर्भवती महिलाएं एच.आई.वी. संक्रमित मिली हैं। 

वर्ष 2022-23 में कुल 557 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाएं, वर्ष 2021-22 में 453 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाएं, वर्ष 2020-21 में 389 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाएं, वर्ष 2019-20 में 375 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाओं की पंजाब से पहचान की गई जबकि अस्पतालों में बच्चों को जन्म देने वाली संक्रमित महिलाओं के आंकड़े के अनुसार वर्ष 2022-23 में कुल 625 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाएं, वर्ष 2021-22 में 611 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाएं, वर्ष 2020-21 में 341 एच.आई.वी. संक्रमित महिलाएं दर्ज की गई।पंजाब स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी की मॉनीटरिंग इवैल्युएशन ऑफिसर डॉली खुराना का कहना है कि नाको की गाइडलाइंस को ध्यान में रखते हुए पंजाब में हर गर्भवती की एच.आई.वी. जांच की जा रही है ताकि मां से बच्चे तक वायरस के फैलाव को रोका जा सके। पंजाब स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी के एडिशनल प्रोजैक्ट डायरैक्टर डा. बॉबी गुलाटी का कहना है कि राज्य भर में एच.आई.वी. स्क्रीनिंग की दर बढ़ा दी गई है। गर्भवती महिलाएं भी एच.आई.वी. स्क्रीनिंग के प्रति जागरूक हो गई हैं और अस्पतालों में गर्भवतियों की जांच अनिवार्य तौर पर की जा रही है। दवाओं की वजह से मां से गर्भस्थ शिशु तक एच.आई.वी. का प्रसार वैसे तो लगभग रुक चुका है परंतु बहुत ही कम मामलों में मां से शिशु में वायरस का प्रसार देखने को मिला है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Recommended News

Related News