चन्नी की कैबिनेट विस्तार से पहले कांग्रेस में बड़ा धमाका, 6 विधायकों ने सिद्धू को लिखी चिट्ठी

9/26/2021 12:40:51 PM

चंडीगढ़/जालंधर (रमनजीत, राहुल): मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी की कैबिनेट के आज होने वाले विस्तार से पहले पंजाब कांग्रेस में फिर बड़ा धमाका हुआ है। दरअसल चन्नी कैबिनेट में आज 7 नए चेहरों समेत कुल 15 मंत्रियों ने शपथ लेनी है। 7 नए संभावित चेहरों में राणा गुरजीत सिंह का नाम भी शामिल है। राणा गुरजीत सिंह कैप्टन अमरिंदर सिंह मंत्रालय के समय में भी मंत्री रह चुके हैं और उस समय उनका नाम रेत माफिया में काफ़ी उभरा था और इसी कारण उनको कैबिनेट में से इस्तीफ़ा देना पड़ा था।

अब फिर पंजाब में चन्नी मंत्रालय में विस्तार से कुछ घंटे पहले ही राणा गुरजीत सिंह को मंत्री बनाए जाने को लेकर विवाद छिड़ गया है। इसको लेकर दोआबा के पंजाब कांग्रेस का पूर्व प्रधान और 6 विधायकों ने पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू और मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी को पत्र लिखकर राणा गुरजीत सिंह को मंत्री बनाऐ जाने का तीखा विरोध किया है। चिट्ठी लिखने वालों में पूर्व पंजाब प्रधान मोहिंदर सिंह के.पी., नवतेज सिंह चीमा विधायक सुल्तानपुर, बलविंदर सिंह धालीवाल विधायक फगवाड़ा, बावा हेनरी विधायक जालंधर नौरथ, डा. राज कुमार विधायक चब्बेवाल, पवन आदिया विधायक शाम चौरासी, सुखपाल सिंह खैहरा विधायक भुलत्थ का नाम है।

चिट्ठी में लिखा गया है कि जनवरी 2018 में राणा गुरजीत सिंह और उनके परिवार का नाम रेत घोटाले में आया था, जिस कारण उनको मंत्री मंडल से बाहर निकाल दिया गया था। राणा गुरजीत सिंह को न तो कोई क्लीन चिट दी गई है और न ही उनको किसी अदालत ने बरी किया है, फिर क्यों एक दाग़ी नेता को पंजाब की कैबिनेट में शामिल किया जा रहा है। यहां यह ख़ास तौर पर बताने योग्य है कि 2018 में जिस समय राणा गुरजीत सिंह का नाम रेत माफिया में सामने आया था उस समय सुखपाल सिंह खैहरा आम आदमी पार्टी में विरोधी पक्ष के नेता थे। उन्होंने ज़ोरों -शोरों के साथ यह मुद्दा उठाया था। उस समय खैहरा ने आरोप लगाते हुए कहा था कि राणा गुरजीत सिंह कैप्टन का फंड मैनेजर है और करोड़ों रुपए का फंड कैप्टन अपने इस मंत्री से लेता है। यही कारण है कि कैप्टन इस पर एक्शन नहीं लिया।

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tania pathak

Recommended News

static