‘आप’ विधायकों ने स्मार्ट सिटी प्रोजैक्ट में लगाए धांधली के आरोप

punjabkesari.in Tuesday, Mar 29, 2022 - 03:35 PM (IST)

जालंधर (खुराना): शहर से जीते आम आदमी पार्टी के दोनों विधायकों रमन अरोड़ा तथा शीतल अंगुराल ने आज पहली बार जालंधर नगर निगम कार्यालय आकर कमिश्नर तथा सभी विभागों के उच्चाधिकारियों से एक लंबी बैठक की। इस दौरान बिल्डिंग विभाग तथा तहबाजारी समेत सभी विभागों की जमकर क्लास लगाई गई। दोनों विधायकों ने स्मार्ट सिटी प्रोजैक्टों में धांधली का आरोप लगाते हुए जहां उच्च स्तरीय जांच करवाने की बात कही है, वहीं उन्होंने निगम अधिकारियों को निर्देश भी दिए हैं कि पिछले समय दौरान बनी और इन दिनों बन रही सभी अवैध बिल्डिंगों और अवैध कालोनियों पर बिना पक्षपात कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा किए हम राजनीतिक प्रैशर नहीं डालेंगे, अफसरों को कार्रवाई के लिए फ्री हैंड दिया है।

PunjabKesari

120 फुट रोड प्रोजैक्ट की विजिलैंस से जांच होगी
‘आप’ विधायक ने कहा कि 120 फुट रोड पर स्मार्ट सिटी के 20 करोड़ रुपए से जो स्टॉर्म वाटर सीवर प्रोजैक्ट पूरा किया गया है, उसमें भारी धांधली हुई है और उसमें पूर्व विधायक की भी शमूलियत है। इस धांधली को मुख्यमंत्री तक भी ले जाया जाएगा और विजिलैंस से भी जांच करवाई जाएगी। विधायक शीतल ने कहा कि वह पिछले 8 महीने से इस प्रोजैक्ट को लेकर लड़ाई लड़ रहे हैं। अब आम आदमी पार्टी की सरकार आने के बाद प्रोजैक्ट के सैंपल भरवाए जाएंगे और धांधली में जिम्मेदार अधिकारियों पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने वैस्ट क्षेत्र में स्मार्ट सिटी तथा अन्य स्रोत से चल रहे प्रोजैक्टों की फाइलें भी निगम अधिकारियों से तलब की और कहा कि बड़े स्तर पर हुई धांधली का पर्दाफाश किया जाएगा।

बस्ती बावा खेल तथा काला संघिया रोड पर कटी अवैध कालोनियों की लिस्ट मांगी
'आप' विधायकों ने कहा कि पिछली सरकार दौरान बिल्डिंग विभाग पर राजनीतिक प्रैशर हावी रहा जिस कारण अवैध निर्माण हुए और कालोनियां कट गई परंतु अब राजनीतिक प्रैशर नहीं डाला जाएगा और अवैध निर्माणों तथा कालोनियों पर निगम को बिना पक्षपात कार्रवाई करनी होगी। गरीबों के एक डेढ़ मरले तक के मकानों को छूट दिलाने के लिए सरकार पास पहुंच की जाएगी परंतु बड़ी-बड़ी बिल्डिंगों से सरकारी खजाने को हो रहे नुक्सान पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इन विधायकों ने कहा कि अवैध बिल्डिंगों और कालोनियों बाबत उनकी ओर से आई सिफारिशों को भी न माना जाए और विभाग अपने स्तर पर कार्रवाई करे। इस दौरान शीतल अंगुराल ने बस्ती बावा खेल तथा काला संघिया रोड पर कटी अवैध कालोनियों की लिस्ट मांगी।

PunjabKesari

प्रॉपर्टी टैक्स विभाग भी सख्ती करे
आम आदमी पार्टी के विधायकों ने जहां बी. एंड आर. विभाग के अधिकारियों से कहा कि पिछले समय दौरान हुए कामों संबंधी लिस्टें उन्हे पहुंचाई जाए, वहीं उन्होंने प्रॉपर्टी टैक्स विभाग के अधिकारियों को भी निर्देश दिए कि टैक्स उगाही हेतु कैंप लगाए जाएं और लोगों को वार्निंग भी दे दी जाए। निश्चित अवधि में टैक्स जमा ना करवाने वालों पर सख्ती भी की जाए ताकि खजाने को भरा जा सके।

खुद विधायक ने खोली तहबाजारी की पोल
रैनक बाजार के दुकानदार से विधायक बने रमन अरोड़ा ने आज बैठक के दौरान तहबाजारी विभाग की पोल खोलते हुए कहा कि आज बाजारों में दाखिल होना मुश्किल है और दुकानदारों तथा फड़ी वालों ने 10-20 फुट कब्जे आम कर रखे हैं। विभाग किस प्रकार प्राइवेट वसूली करता है और कैसे ऑपरेशन चलाए जाते हैं, इस बाबत उन्हें पूरी जानकारी है। उन्होंने निर्देश दिए कि तहबाजारी विभाग गरीबों से धक्का न करे परंतु अस्था/r कब्जों पर निष्पक्ष कार्रवाई की जाए। इस दौरान उन्होंने भगवान वाल्मीकि चौक और रैनक बाजार की एंट्री के आसपास हुए अवैध कब्जों पर विशेष कार्रवाई के निर्देश दिए, जहां पैदल निकलना तक मुश्किल है और एंबुलैंस को आने-जाने का रास्ता नहीं मिलता। विधायकों ने तहबाजारी सुपरिंटेंडेंट मनदीप सिंह को एक दबंग अधिकारी का खिताब देते हुए कहा कि वह रामामंडी क्षेत्र से भी कब्जे साफ करवाएं और लोगों से वाहवाही लूटें। स्ट्रीट वेंडिंग जोन पॉलिसी पर भी तेजी से कार्रवाई हो।

विज्ञापन टैंडर न लगने देने का आरोप मेयर पर मढ़ा
बैठक के दौरान विज्ञापन शाखा से जुड़े अधिकारियों ने कहा कि शहर के केवल एक जोन से ही विज्ञापन टैक्स की वसूली हो रही है और बाकी शहर का टैंडर लगाने में अड़चनें डाली जा रही हैं। अधिकारियों ने मेयर राजा पर आरोप लगाया कि 12 करोड़ 40 लाख रुपए का टैंडर लगाने संबंधी प्रस्ताव हाऊस से पिछले साल अगस्त महीने में पास करवाया गया था और फाइल अनुमति हेतु मेयर कार्यालय भेजी गई थी परंतु बार-बार निराधार आब्जैक्शन लगाकर फाइल रोकी गई है और टैंडर नहीं लगने दिया जा रहा।

फायर ब्रिगेड की खानापूर्ति पर भी हुई चर्चा
बैठक के दौरान आप विधायक रमन अरोड़ा ने कहा कि लाखों करोड़ों रुपए खर्च करके अंदरूनी बाजारों में पाइपें तथा फायर हाइड्रेंट लगाए तो गए परंतु वह किसी काम के नहीं क्योंकि निगम ने बिजली और जनरेटर तक का प्रबंध नहीं किया इसलिए आज भी बाजारों में आग लगने की सूरत में गाड़ियां भेजनी पड़ रही है, जिसमें होती देरी से लाखों करोड़ों का नुकसान होता है। ऐसी खानापूर्ति को बंद किया जाए और सही तरीके से काम किए जाएं।

गंदे पानी की समस्या को गंभीरता से लिया
आप विधायकों ने आज निगम के ओ. एंड एम. सेल की जबरदस्त क्लास लगाते हुए कहा कि गुरुनानकपुरा वैस्ट, गोपाल नगर तथा शहर के कई हिस्सों में पिछले लंबे समय से गंदा पानी सप्लाई हो रहा है परंतु निगम उसे गंभीरता से ले ही नहीं रहा। बैठक के दौरान विधायक इस बात को लेकर काफी हैरान हुए कि गत दिवस गुरुनानक पुरा में गंदे पानी को लेकर लगे धरने बाबत निगम के अधिकारियों को कुछ पता ही नहीं था। निर्देश दिए गए कि संबंधित अधिकारी लोगों को साफ पानी मुहैया करवाने की ओर ध्यान दें अन्यथा जनता दरबार लगाकर और लोगों की समस्या सुनकर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कच्चे मकानों से संबंधित सिस्टम भी ठीक किया जाए
बैठक के दौरान हाऊसिंग फॉर ऑल स्कीम पर भी विस्तार से चर्चा हुई। इस दौरान विधायकों ने आरोप लगाया कि पूर्व विधायकों ने जरूरतमंदों को तो स्कीम के दायरे में शामिल नहीं किया परंतु अपने ऐसे सिफारिशयों को भी डेढ़ लाख रुपए दिलवा दिए जिनके घर में एयर कंडीशन तक लगे हुए थे। इन विधायकों ने कहा कि इस मामले में हुई धांधली को भी उजागर किया जाएगा। आगे से सभी जरूरतमंदों को स्कीम का लाभ दिलाया जाए। अब जिसे भी इस स्कीम के तहत पैसे वितरित करने हैं, उनकी वेरिफिकेशन संबंधित विधायकों से करवाई जाए।

ब्लैकमेलिंग को भी रोकेंगे
आप विधायकों ने कहा कि आर.टी.आई. तथा शिकायतों के माध्यम से शहर में ब्लैकमेलिंग भी की जा रही है जिस बाबत उन्हें सब पता है। अब ऐसे अनसरों विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी और उन्हें मनमानियां करने नहीं दी जाएंगी।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News