अकाली दल की मांग, खैहरा को दिया जाए अयोग्य करार

10/22/2019 5:25:55 PM

चंडीगढ़ः शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने सुखपाल सिंह खैहरा समेत आम आदमी पार्टी (आप) के चार विधायकों को तुरंत अयोग्य करार देने की मांग की। यहां जारी बयान में पार्टी प्रवक्ता डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि खेहरा का इस्तीफा वापिस लेने का प्रयास संविधान के साथ छल करना है। उन्होंने कहा कि संविधान के अनुसार आप के चारों विधायकों के पार्टी छोड़ने, दूसरा राजनीतिक दल बनाने या किसी अन्य राजनीतिक दल में जाने से जन प्रतिनिधि कानून के उल्लंघन के कारण अयोग्य करार दिया जाना चाहिए। इस्तीफा वापिस लेने का नाटक उन्हें बचा नहीं सकता। 

चीमा ने आरोप लगाया कि आप विधायकों के इस्तीफा दिलवाने और अब वापिस लिए जाने की पटकथा कांग्रेस ने ही लिखी हुई है और साबित हो गया है कि यह आप विधायक कांग्रेस के इशारे पर काम कर रहे हैं और उसकी ‘बी‘ टीम हैं। शिअद प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि कांग्रेस को स्पष्ट करना चाहिए कि इन विधायकों से उनकी क्या सौदेबाजी हुई है। उन्होंने यह भी कहा कि यह ‘अपवित्र गठजोड़‘ सरकारी खजाने को भी नुकसान पहुंचा रहा है क्योंकि यह विधायक वेतन समेत सारी सुविधाएं पा रहे हैं। 

चीमा ने यह भी कहा कि खैहरा और बलदेव सिंह पंजाब एकता पार्टी बना चुके हैं और दूसरे चुनाव चिन्ह पर लोकसभा चुनाव भी लड़ चुके हैं। जबकि नाजर सिंह और अमरजीत सिंह संदोआ कांग्रेस में जा चुके हैं। इस बीच लोक इंसाफ पार्टी के अध्यक्ष सिमरजीत बैंस ने कहा कि यह खेहरा का निजी फैसला है हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि किस कानूनी विशेषज्ञ से सलाह ली जानी चाहिए कि क्या इस तरह इस्तीफा वापिस लिया जा सकता है।


Mohit

Related News