भ्रष्टाचार के खिलाफ मान के मास्टर स्ट्रोक का मुकाबला करना अन्य पार्टियों के लिए चुनौती

punjabkesari.in Wednesday, May 25, 2022 - 09:17 AM (IST)

पठानकोट (शारदा): पंजाब की प्रमुख कार्पोरेशनों के साथ संगरूर लोकसभा उपचुनाव होने हैं और 2024 में लोकसभा चुनावों को लेकर भी पार्टियों अगले वर्ष से तैयारियां शुरू कर देंगी। सबसे बड़ा प्रश्न जो राजनीतिक दलों के मन में उभर रहा है, वह यह है कि आम आदमी पार्टी के साथ किस दल का मुख्य मुकाबला होने जा रहा है।

चाहे भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा चुनावों में न अधिक वोटें ली हैं और न ही सीटें परंतु जिस प्रकार से कांग्रेस के दिग्गज नेता अपना भविष्य भाजपा में देख रहे हैं, उससे लोगों में काफी उत्सुकता बढ़ी है। चुनावों के बाद भी जो स्थिति बन रही है, उसमें कांग्रेसी नेता अपना भविष्य भाजपा में देख रहे हैं। पंजाब एवं देश के कद्दावर नेता सुनील जाखड़ के भाजपा ’वाइन करने के बाद एकाएक आम आदमी पार्टी की मुख्य प्रतिद्वंद्वी पार्टी भाजपा बनती नजर आ रही है क्योंकि केंद्र में भाजपा की मजबूत मोदी सरकार है और जिस प्रकार से कांग्रेस की स्थिति पूरे देश में है, 2024 में भाजपा एक बार पुन: बाजी मारने की स्थिति में हो सकती है।

आम आदमी पार्टी ने आज अपने ही स्वास्थ्य मंत्री को बर्खास्त करके तथा उसकी गिरफ्तारी करवाकर एक नया इतिहास लिख दिया है। पौने 3 करोड़ पंजाबियों को भ्रष्टाचार से मुक्ति जैसे वायदे बहुत अच्छे लगते हैं क्योंकि भ्रष्टाचार अपनी हदें पार कर चुका है। ऐसी स्थिति में सरकार ने जो निर्णय लिया है, वह मान सरकार की लोकप्रियता शीर्ष पर ले जाएगा। ऐसी स्थिति में आम आदमी का सत्तासीन रही कांग्रेस और अकाली दल के लिए इस मुद्दे पर मुकाबला करना एक चुनौती है। कांग्रेस प्रमुख विपक्षी दल है और उनके पास वर्करों की बड़ी टीम है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News