Coronavirus: शहीदी दिवस पर साल में एक बार चलने वाली ट्रेन रद्द

3/23/2020 12:20:39 PM

जालंधर: कोरोना वायरस के चलते भारतीय रेलवे ने मालगाड़ियों को छोड़कर अपनी सभी सेवाओं को बंद कर दिया है। करीब 13,523 ट्रेनें रद्द हो गई हैं, जिनमें 5881 ई.एम.यू., 3695 मेल एक्सप्रेस और 3947 पैसेंजर ट्रेनें शामिल हैं। पहले रेलवे ने सिर्फ पैसेंजर ट्रेन बंद करने का ऐलान किया था. लेकिन रविवार रात रेलवे ने सभी ट्रेनों को बंद करने का फैसला किया। बता दें कि एक ऐसी ट्रेन भी है जोकि साल में सिर्फ एक दिन ही चलाई जाती है। दरअसल, यह ट्रेन शहीदों के नाम पर शहीदी दिवस यानि 23 मार्च को चलाई जाती है। पर कोरोना के चलते इस ट्रेन को भी रद्द कर दिया है। जानकारी के अनुसार मालगाड़ियों के इलावा सारी ट्रेनें 31 मार्च तक रद्द कर दी गई हैं। 

PunjabKesari, Coronavirus: Canceled train once a year on Martyrdom Day

कितना सफर तय करती है यह ट्रेन
बता दें कि यह ट्रेन होशियारपुर जिले के जैजो गांव से शुरू होकर करीब 200 किलोमीटर का सफर तय करती है। यह ट्रेन नवांशहर और जालंधर जिले से होते हुए अमृतसर पहुंचती है। नवांशहर पंजाब के शहीद भगत सिंह नगर जिले का मुख्यालय है और भगत सिंह का पैतृक गांव खटकरकलां है। यह ट्रेन फिरोजपुर से लेकर हुसैनीवाला बॉर्डर तक स्पेशल ट्रेन 10 किलोमीटर का सफर तय करती है। 

PunjabKesari, Coronavirus: Canceled train once a year on Martyrdom Day

ट्रेन पहले करती थी लाहौर तक का सफर
एक समय में ये रेल लाइन हुसैनीवाला से होकर लाहौर तक जाती थी पर पाकिस्तान से हुई लड़ाई के दौरान यह रेल मार्ग बंद कर दिया गया। यहां सतलुज दरिया पर बने रेल पुल को भी तोड़ दिया गया। अब हुसैनीवाला में ही रेल लाइन खत्म हो जाती है। रेलवे ट्रैक को ब्लॉक कर यहां लिखा गया है- द एंड ऑफ नार्दर्न रेलवे।

हर साल शहीदी दिवस पर लगने वाला मेला भी रद्द
जानकारी के अनुसार पूरे साल में एक दिन, सिर्फ 23 मार्च को ही फिरोजपुर से एक स्पेशल ट्रेन बार्डर के लिए चलती है। गौरतलब है कि फिरोजपुर शहर से 10 किलोमीटर दूरी पर बने हुसैनीवाला बॉर्डर पर शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की समाधि है। इस समाधि पर 23 मार्च को हर साल मेला लगता है। इस शहीदी मेले में दूर-दूर से पर्यटक शामिल होते हैं। पर इस बार कोरोना के चलते यह मेला भी रद्द कर दिया गया है।

PunjabKesari, Coronavirus: Canceled train once a year on Martyrdom Day


Edited By

Sunita sarangal

Related News