किसानों ने नेशनल हाईवे किया जाम, जानें क्या है वजह

punjabkesari.in Saturday, Jun 11, 2022 - 03:49 PM (IST)

मुकेरिया (राजू): पगड़ी संभाल जट्टा लहर पंजाब और अन्य किसान जत्थेबंदियों के नेतृत्व में गन्ना किसानों ने चीनी मिल के 90 करोड़ रुपए के बकाए की अदायगी की मांग को लेकर चीनी मिल आगे धरना लगाने के बाद जालंधर-पठानकोट हाईवे पर यातायात जाम कर दिया जिससे राहगीरों और वाहन सवार परेशान होते रहे।

इससे पहले धरने दौरान गन्ना किसानों ने चीनी प्रबंधकों को अदायगी बारे फैसला लेने के लिए दोपहर 2 बजे तक का समय दिया। इस दौरान एस.डी.एम. मुकेरियां कंवलजीत सिंह, डी.एस.पी. परमजीत सिंह, एस.एच.ओ. हरजिन्दर सिंह की मौजूदगी में मिल के मुख्य प्रबंधक संजय सिंह के साथ किसान नेताओं की हुई मीटिंग में कोई ठोस फैसला न होने पर गुस्से में आए गन्ना किसानों ने दोपहर 3 बजे के करीब जालंधर-पठानकोट हाईवे को अनिश्चित समय के लिए जाम करने का ऐलान किया। इस दौरान गन्ना किसानों ने राज्य सरकार और मिल प्रबंधकों खिलाफ नारेबाजी की और गन्ने के बकाए की एकमुश्त अदायगी की मांग की।

इस दौरान प्रवक्तों ने कहा कि किसान जत्थेबंदियों की तरफ से मिल प्रबंधकों और स्थानीय प्रशासन के आधिकारियों के साथ बार-बार मीटिंगें करने के बावजूद 2021-22 के 90 करोड़ रुपए के बकाय की अदायगी नहीं की गई। मिल प्रबंधकों और प्रशासन की तरफ से किसानों को समय-समय पर भरोसा ही दिया जाता रहा, जबकि चीनी मिल्लें मनमाने ढंग से अदायगियां कर रही हैं। यह सिलसिला हर सीजन में जारी रहता है और हर वर्ष गन्ना उत्पादकों को अदायगी के लिए धरनों और चक्का जाम का सहारा लेना पड़ता है। नेताओं ने कहा कि पंजाब की मौजूदा आम आदमी पार्टी की सरकार भी गन्ना किसानों के बकाए हल करने के लिए गंभीरता नहीं दिखा रही और किसान जत्थेबंदियों के साथ मीटिंगों करने के बावजूद मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा भी गन्ना किसानों के बकाए हल करने में नाकाम रहे हैं।

इस मौके सतनाम सिंह बागड़िया, गुरनाम सिंह जहानपुर, अवतार सिंह बोबी, सुखदेव सिंह भुजराज किसान और नौजवान भलाई यूनियन धारीवाल, अमरजीत सिंह राड़ा दोआबा आजाद किसान समिति, बाबा कमलजीत सिंह माझा किसान यूनियन कीड़ी अफगाना, धर्मिन्दर सिंह सिम्बली, दलजीत सिंह मंझपुर, अजैब सिंह बेला सरियाना, लखवीर सिंह लक्खा महमूदपुर, कमलजीत सिंह गोली, रवीन्द्र सिंह गोली, नंबरदार हरिन्दर सिंह आदि उपस्थित थे। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News