फतह गैंग के गुर्गों की गई गुंडागर्दी के मामले में सामने आई ये बात

punjabkesari.in Wednesday, Apr 20, 2022 - 01:18 PM (IST)

जालंधर: सोढल रोड पर देर रात शराब के नशे में सन्नी और दिवांश ने फायरिंग भी की थी। आरोपी वायरल हुई वीडियो में तो फायरिंग करते नहीं दिखे लेकिन जिस राहगीर प्रवासी के सिर पर उन्होंने पिस्तौल के बट मारे, उस पर आरोपियों ने फायरिंग की थी। दूसरी तरफ पुलिस ने दिवांश की तलाश में सोढल रोड पर स्थित उसके घर पर रेड की तो उसके भाई हेमंत ने अपनी एक्टिवा देकर उसे भगा दिया। पुलिस ने दिवांश के भाई खिलाफ केस दर्ज करके मंगलवार को उसे गिरफ्तार कर लिया। हेमंत के खिलाफ वांछित आरोपी को भगाने के आरोपों में एफआईआर दर्ज की गई है।

थाना-8 के प्रभारी मुकेश कुमार ने बताया कि पिस्तौलें लहराते हुए सन्नी निवासी बस्ती भूरे खां और दिवांश वीडियो में तो हवाई फायर करते नहीं दिखे लेकिन जब प्रवासी ने उन्हें बयान दिए तो पता लगा कि फैक्टरी से घर जाते हुए सोढल रोड पर उक्त दोनों आरोपियों ने उन्हें पकड़ लिया। उसके सिर पर पिस्तौल के बट मारे और फिर जेब से 1200 रुपए निकाल लिए। जब युवक ने भागने की कोशिश की तो सन्नी और दिवांश ने उस पर फायरिंग भी की।

पुलिस का कहना है कि दिवांश को भगाने वाले उसके भाई हेमंत को गिरफ्तार करके जेल भेजने के आदेश ले लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि सन्नी और दिवांश की भी लोकेशन ट्रैक की जा रही व जल्द उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। सन्नी और दिवांश अपने दुश्मन चेतन की तलाश में आए थे और शराब के नशे में थे। इन आरोपियों खिलाफ कई क्रिमिनल केस दर्ज हैं और उसमें भगौड़े भी हैं। सन्नी का भाई शेरू भी फतेह गैंग का है और वह भी भगौड़ा है। काफी समय से सन्नी व शेरू पुलिस के हाथ नहीं लग रहे।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News