नई बहू से दुखी होकर ससुर ने मौत को लगाया गले, 6 पेज के सुसाइड नोट में बयां किया दर्द

8/6/2020 6:22:24 PM

नाभा(खुराना): नाभा की विकास कालोनी में नई बहू से दुखी होकर ससुर ने खुदकुशी कर ली। जानकारी मुताबिक पांच महीने पहले विशाल ढल का विवाह विशाली के साथ हुआ था परन्तु विशाली और उसके परिवार की तरफ से छोटी-छोटी बात को लेकर विशाल के परिवार पर दहेज का झूठा मामला दर्ज करने की धमकियां दी जाती थी। बीती रात विशाल ढल के पिता जनक राज ने इन धमकियों से डरते हुए घर में ही पंखे के साथ फंदा लगा कर खुदकुशी कर ली। जनक राज ने मरने से पहले छह पेज का सुसाइड नोट भी लिखा जिसमें उसने अपना दर्द बयां किया। 

जनक राज ने सुसाइड नोट में लिखा कि मेरी बहू हम पर झूठे आरोप लगा कर अपने परिवार को यहां बुला लेती थी और वह हमें धमकियां देते थे कि आपको जेल में फंसा देंगे। हम कभी ऐसे कामों में नहीं पड़े, जिस करके हमारा सारा परिवार हाथ जोड़ कर विशाली से माफी भी मंगता था परन्तु इसके बावजूद भी कई बार वह घर से भी भागी और हम उसे फिर हाथ जोड़ कर मना कर घर लाते रहे, लेकिन एक दिन तब हद हो गई जब विचौलन महिला गालियां निकालते हुई विशाली को मायके घर ले गई। 

जब हमने नाभा डी.एस.पी. दफ्तर में शिकायत दी तो पुलिस ने विशाली के परिवार को नाभा के डी.एस.पी. दफ्तर में 6 तारीख को आने के लिए कहा परन्तु विशाली के परिवार ने मिलकर वूमैन सैल अम्बाला में हमारे के खिलाफ शिकायत दे दी और उन्होंने 6 तारीख को हमें सभी परिवार समेत अम्बाला में उपस्थित होने के लिए कहा जिससे मैं बहुत घबरा गया और बात वही हुई जोकि विशाली का परिवार और उसका ताया हमें धमकी देता थी कि हमारी पहुंच बहुत दूर तक है, आपको हम जेल अंदर करवा देंगे, जिस डर के चलते मैं खुदकुशी कर रहा हैं, जिस के जिम्मेदार विशाली उसके माता-पिता और विशाली का ताया है।

मृतक जनक राज ने आखिर में लिखा है यदि लड़कियों को ससुर परिवार तंग करता है तो लड़कियों की हिफाजत के लिए बहुत कानून हैं, जो होने भी चाहिए लेकिन जो लड़कियां ससुराल परिवार को इसी कानून की आड़ लेकर बर्बाद कर रही हैं, उनके खिलाफ कब कानून बनेगा और कब ऐसे बर्बाद परिवारों को इंसाफ मिलेगा। फिलहाल मृतक जनक राज के बेटे विशाल ढल के बयानों के आधार पर पुलिस की तरफ से धारा-306 के अंतर्गत 4 व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके आगे वाली कार्यवाही शुरू कर दी है। 


Vaneet

Related News