CBSE के Students के लिए अहम खबर, अब इस नए ढंग से आएगा Question Paper

4/24/2021 11:23:01 AM

लुधियाना (विक्की) : सैंट्रल बोर्ड ऑफ सैकेंडरी एजुकेशन (सी.बी.एस.ई.) द्वारा सत्र 2021-22 से 9वीं से 12वीं के प्रश्न पत्र पैटर्न में बदलाव कर दिया है। यह बदलाव इसी सत्र से लागू होगा। इसकी जानकारी तमाम स्कूलों को भेज दी गई है। बोर्ड की मानें तो 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में अब शोर्ट एंड लॉन्ग आंसर टाइप प्रश्न 10 फीसदी कम पूछे जाएंगे। अभी तक 10वीं में शोर्ट एंड लॉन्ग आंसर टाइप प्रश्न 70 फीसदी पूछे जाते थे। वहीं 12वीं में 60 फीसदी शोर्ट एंड लॉन्ग आंसर टाइप प्रश्न रहता था। लेकिन बोर्ड ने 10 फीसदी कम कर दिया है। वहीं 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में अबिल्टी बेस्ड प्रश्न को जोड़ा गया है। बता दें कि नई शिक्षा नीति 2020 के तहत बोर्ड द्वारा यह बदलाव किया गया है। विद्यार्थियों में सोचने की अबिल्टी का विकास हो, इसके लिए अब 9वीं और 11वीं के वार्षीक परीक्षा और बोर्ड परीक्षा में अबिल्टी बेस्ड प्रश्न का जवाब देना होगा। इसमें 9वीं और 10वीं बोर्ड में 30 फीसदी और 12वीं के बोर्ड परीक्षा में 20 फीसदी अबिल्टी वाले प्रश्न रहेंगे। अभी तक अबिल्टी बेस्ड प्रश्न नहीं पूछे जाते थे। 

नए पैटर्न पर जारी होगा सैंपल पेपर 
बोर्ड के अधिकारियों की मानें तो बदले हुए नए पैटर्न पर ही सैंपल पेपर जारी होगा। इसी पैटर्न पर अब स्कूलों को पढ़ाने का भी निर्देश दिया गया है। इससे छात्रों को अभी से इसकी जानकारी मिल पाएगी। 

9वीं और 10वीं में 

  • अबिल्टी बेस्ड प्रश्न 30 फीसदी रहेगा (इसमें मल्टीपल च्वाइस, केस स्टडी,इंटीग्रेटेड आदि प्रकार का प्रश्न रहेगा)
  • 20 अंक का ऑब्जैक्टिव टाइप प्रश्न रहेगा 
  • शोर्ट एंड लॉन्ग आंसर टाइप प्रश्न 60 फीसदी से घटा कर अब 50 फीसदी पूछे जाएंगे 

11वीं और 12वीं में 

  • अबिल्टी बेस्ड 20 फीसदी प्रश्न रहेगा (इसमें केस स्टडी, मल्टीपल च्वाइस, इंटीग्रेटेड प्रकार का प्रश्न रहेगा)
  • 20 अंक का ऑब्जैक्टिव टाइप प्रश्न रहेगा 
  • शोर्ट एंड लॉन्ग आंसर टाइप प्रश्न अब 70 फीसदी से घटा कर 60 फीसदी कर दिया गया है।

पंजाब और अपने शहर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


Content Writer

Vatika

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static