अहम खबर: चंडीगढ़ में 2 साल बाद मिली MASK से आजादी, अब नहीं काटा जाएगा चलान

punjabkesari.in Tuesday, Apr 05, 2022 - 11:04 AM (IST)

चंडीगढ़: शहर वासियों को 2 साल बाद मास्क से आज़ादी मिल गई है। यू. टी. प्रशासन के सलाहकार धर्मपाल ने सोमवार को मास्क लगाने की जरूरत को खत्म कर दिया है।  हालांकि प्रशासन लोगों को मास्क लगाई रखने के लिए जागरूक करता रहेगा लेकि यदि किसी ने मास्क नहीं लगाया होगा तो उसका चालान नहीं कटेगा। कोरोना का इन्फ़ेक्शन कम होने के कारण करीब 2 साल के लंबे समय के बाद यू. टी. प्रशासन ने मास्क पहनने की ज़रूरत को खत्म किया है।

सलाहकार धर्मपाल की तरफ से आदेश जारी करने के बाद अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना लोगों की मर्ज़ी पर होगा। मास्क न पहनने पर न चालान कटेगा और न ही जुर्माना लगेगा। यू. टी. प्रशासन ने इस कारण यह फ़ैसला लिया है क्योंकि शहर में लगभग सभी को कोरोना वैक्सीन का टीका लग चुका है। इसलिए माना जा रहा है कि कोरोना का इन्फ़ेक्शन फैलने का अब खास ख़तरा नहीं है। इसलिए प्रशासन ने पिछले दिनों में मास्क और सोशल डिस्टैंसिंग के नियमों को छोड़ कर अन्य सभी पाबंदियों को ख़त्म कर दिया था। सोमवार को यह पाबंदियां भी हटा दीं गई। पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, दिल्ली और हरियाणा सरकार ने भी मास्क की ज़रूरत को ख़त्म कर दिया है। हालांकि प्रशासन लोगों को भीड़ वाले स्थानों पर मास्क लगाने के लिए कहता रहेगा। बता दें कि कोरोना इन्फ़ेक्शन कारण यू. टी. प्रशासन ने अप्रैल, 2020 में मास्क पहनने और ओर कई पाबंदियां लगाई थी। नाइट कर्फ़्यू भी लागू कर दिया गया था। स्कूल -कालेजों को बंद कर दिया गया था। इसके अलावा मुलाजिमों को भी वर्क फ्रॉम होम के निर्देश दिए गए थे। 

 



 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News