पंजाब में अब घटिया शराब बेचने वालों की खैर नहीं

7/10/2020 5:52:31 PM

अमृतसर (दलजीत शर्मा): पंजाब में अब घटिया शराब बेचने वालों की खैर नहीं होगी। फूड एंड ड्रग विभाग लॉकडाउन खुलने के बाद खाने-पीने की वस्तुओं के साथ शराब की भी सैंपलिंग और चैकिंग करेगा। शराब चाहे देसी हो या फिर अंग्रेजी समेत किसी भी ब्रांड की उसकी गुणवत्ता की परख के लिए विभाग ने टीमों का गठन कर दिया है। फूड कमिश्नर काहन सिंह पन्नू ने सभी जिलों के जिला सेहत अफसरों को ताकीद की है कि इस तरफ खास तवज्जो दें ताकि हर एक खाने-पीने की वस्तु की गुणवत्ता को बरकरार रखा जाए।

पन्नू ने इस संदर्भ में जारी नोटिफिकेशन में बताया कि तंदरुस्त पंजाब मिशन के तहत इस अभियान को पहले से भी अधिक मजबूती से चलाया जा रहा है। इसके लिए सूबे में 20 नए फूड सेफ्टी अफसरों की तैनाती कर दी गई है। करीब एक साल की ट्रेनिंग के बाद तैयार यह लोग अपने-अपने इलाकों में जा रहे हैं। इन लोगों का काम खाद्य व पेद पदार्थों की गुणवत्ता पर नजर रखना और दोषी पाए गए लोगों के खिलाफ कार्रवाई करना है।

पन्नू ने बताया कि उक्त टीम दूसरे खाद्य व पेय पदार्थों के अलावा अल्कोहलिक वेबरेज, लिकर, ह्विस्की, स्कॉच, वोदका, जिन, रम, बीयर तथा ब्रांडी सभी की सैंपलिंग व टेस्टिंग होगी। यह कार्रवाई फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड (एल्कोहलिक वेबरेज) रेगुलाइजेशन, 2018 (फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड एक्ट-2006) के तहत की जा रही है। उन्होंने मातहद को कहा है कि वह दूसरे खाद्य व पेय पदार्थों के साथ इनकी भी चैकिंग करें और क्वालिटी में खराबी पाए जाने पर कार्रवाई करें। यह चैकिंग ठेके, दुकान, अहाता या फिर किसी भी बिक्री वाली जगह पर हो सकती है।


Mohit

Related News