मजीठिया ने कैप्टन अमरेन्द्र सिंह से रेजिडेंट डॉक्टरों का भत्ता बढ़ाने का किया अनुरोध

7/3/2020 8:39:11 PM

अमृतसरः शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरेन्द्र सिंह से कोविड-19 महामारी के दौरान मेडिकल कॉलेजों में काम कर रहे रेजिडेंट डॉक्टरों का भत्ता बढ़ाने की मांग की है। पूर्व मंत्री ने रेजिडेंट डॉक्टरों द्वारा चुकाए जाने वाले वार्षिक शुल्क में भी छूट प्रदान करने का अनुरोध किया है। 

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मजीठिया ने कहा कि राज्य के मेडिकल कॉलेजों में काम करने वाले रेजिडेंट डॉक्टरों से बहुत ‘‘ज्यादा शुल्क'' लिया जा रहा है और दिल्ली तथा पी.जी.आई.एम.ई.आर. चंडीगढ़ समेत पड़ोसी राज्यों की तुलना में ‘कम' भत्ता दिया जा रहा है। उन्होंने दावा किया, ‘‘पंजाब के मेडिकल कॉलेजों में रेजिडेंट डॉक्टरों को पड़ोसी राज्यों की तुलना में ज्यादा छात्रावास शुल्क भी देना पड़ता है।'' मजीठिया ने कहा कि अमृतसर, पटियाला, फरीदकोट के मेडिकल कॉलेजों में सालाना दो लाख रुपए शुल्क लिया जाता है जबकि पड़ोसी राज्यों में केवल 20,000 से 40,000 बीच ही शुल्क लगता है। 

उन्होंने कहा कि पंजाब में रेजिडेंट डॉक्टरों को हर महीने 49,000 रुपए भत्ता मिलता है जबकि पड़ोसी राज्यों में उन्हें 80,000 से 99,000 रुपए तक प्रति महीने भत्ता प्रदान किया जाता है। उन्होंने मुख्यमंत्री से पंजाब के स्वास्थ्य तंत्र और मरीजों की देखभाल के हित में इन ‘विसंगतियों' को सुधारने का आग्रह किया और कहा कि डॉक्टरों का भत्ता तत्काल हर महीने एक लाख रुपए कर देना चाहिए ।


Mohit

Related News