मां आखिरी दम तक रोती रही... ‘मुझे मेरे बेटे से मिलवा दो!’

punjabkesari.in Sunday, Mar 14, 2021 - 11:49 AM (IST)

अमृतसर(इन्द्रजीत/टोडरमल): थाना डी-डिवीजन के अंतर्गत आते क्षेत्र की गुंजान आबादी टुंडा तालाब से विवाहिता द्वारा फंदा लगाकर आत्महत्या करने पर पूरे इलाके में शोक की स्थिति पैदा हो गई। विवाहिता के मायके वालों ने मृतका के इस सख्त कदम उठाए जाने पर ससुराल वालों को जिम्मेदार ठहराया है। महिला की अचानक मौत के कारण पूरे इलाके के लोग घटनास्थल पर इकट्ठे हो गए और इसके जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की, वहीं भाजपा नेता रोमी चोपड़ा ने भी मृतका के परिवारजनों से संवेदना व्यक्त की और पुलिस प्रशासन से आरोपी पक्ष के लोगों की तुरंत गिरफ्तारी की गुहार लगाई है। मृतक महिला अंत तक यही कह कर रोती रही कि मुझे मेरे बेटे से मिलवा दो... मेरे बेटे से मिलवा दो, लेकिन बेरहम ससुराल वालों ने उसके 4 वर्षीय बेटे को उससे नहीं मिलाया और अपनी पैसे लेने की मांग पर अड़े रहे। नतीजन महिला ने आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया।

जानकारी के जानकारी के मुताबिक शनिवार की दोपहर 12.30 बजे के करीब कोमल पत्नी विशाल ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। मृतक महिला के पिता रजिंदर कुमार निवासी टुंडा तालाब का कहना है कि उसकी बेटी की 5 वर्ष पहले विशाल निवासी छोटा हरिपुर से शादी की थी। विवाह के समय उन्होंने अपनी पूरी सामर्थ्य के साथ खर्चा किया, लेकिन लालची ससुराल वाले इससे संतुष्ट नहीं हुए और उसकी बेटी को शादी के बाद भी पैसों की डिमांड कर परेशान करने लगे। इस पर उसकी बेटी ने उसे समय-समय पर उनकी मांगों के बारे में जानकारी दी थी। मृतक महिला का एक 4 वर्ष का बेटा भी है।

PunjabKesari, mother commit suicide due to in laws

यह भी पढ़ें: अगवा हुई पादरी की बेटी का पुलिस ने मुस्लिम लड़के से करवाया ‘निकाह’

क्या कहते हैं पीड़िता के पिता
पीड़ित पिता ने बताया कि गत 13 नवंबर को उनकी बेटी ने उन्हें फोन पर बताया कि उसका पति व उसके ससुराल परिवार वालों ने उसके साथ बुरी तरह से मारपीट की है और जब वह 14 नवंबर को अपनी बेटी के ससुराल पहुंचा तो उसके दामाद विशाल ने भी धमकियां देनी शुरू कर दी। उन्होंने कहा कि वह उस समय बहुत हताश हुए और अपनी बेटी को भी साथ लाने के लिए मजबूर कर दिया। परंतु मृतक कोमल के बेटे को उसके ससुराल परिवार ने अपने पास रखा है। बड़ी बात यह है कि कोमल को 4 महीनों से उसके बेटे से नहीं मिलने दिया जा रहा था, जिसके कारण वह मानसिक तौर पर परेशान रहने लगी और पिछले 10-15 दिनों से वह अपने पिता से यही कहती रही कि उसको एक बार उसके बेटे से जरुर मिलवा दो, लेकिन ससुराल परिवार के अड़ियल रवैया के कारण उसे आज आत्महत्या करने पर मजबूर कर दिया गया। पीड़ित पिता ने कहा कि उसकी बेटी की मौत का कारण उसका पति और उसके ससुराल परिवार वाले हैं, उन्होंने पुलिस से मांग की है कि उनके ससुराल परिवार वालों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए।

ये मामला आत्महत्या का नही, ससुरालियों की ओर से बहू का कत्ल : भाजपा नेता
दूसरी तरफ भाजपा नेता रोमी चोपड़ा ने कहा कि यह आत्महत्या नहीं है यह ससुराल परिवार की तरफ से बहू का कत्ल है। मां-बाप होने पर बेटी को इंसाफ नहीं मिल पाया और आज उसने अपनी जीवन लीला ही समाप्त कर ली। इस संबंध में एस.एच.ओ. डी-डिवीजन हरिंदर सिंह से संपर्क करने पर उन्होंने कहा कि इस संबंध में पुलिस ने केस दर्ज कर दिया है और कार्रवाई भी शुरू कर दी है।

पंजाब और अपने शहर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sunita sarangal

Related News

Recommended News