घर के बाहर खेल रही 12 वर्षीय बच्ची के साथ जुल्म की हद- घर ले जाकर किया ये काम

2/14/2021 9:38:42 AM

गोराया(मुनीश): इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना इलाके में सामने आई है। जहां एक नशेड़ी ने 12 वर्षीय बच्ची का बेरहमी से कत्ल कर दिया। 

जानकारी के अनुसार मृत्क बच्ची की उम्र 12 वर्ष थी और वो सातवीं कक्षा में पढ़ती थी। वह शनिवार घर के बाहर अपने छोटे भाई व दोस्तों के साथ खेल रही थी। अचानक शाम चार बजे के करीब वह कहीं लापता हो गई। उसका छोटा भाई तो घर आ गया लेकिन वह नहीं आई। इसके बाद पारिवारिक सदस्यों ने उसकी काफी तालाश की लेकिन वह नहीं मिली। इस बात की सूचना आग की तरह पूरे इलाके में फैल गई। गांव वासियों व पुलिस ने बच्ची की तेजी से तालाश शुरू कर दी। जहां गांव में लगे सारे सी.सी.टी.वी. कैमरों को चैक किया गया वहीं आसपास के गांव में भी लगे सी.सी.टी.वी. कैमरों को चैक किया गया। गांव में अनाउसमैंट भी करवा दी व सोशल मीडिया वाट्सएप, फैसबुक पर भी बच्ची की फोटो को वायरल कर दिया गया। लेकिन कई घंटों तक बच्ची का कुछ नहीं पता लगा। 

पुलिस जांच में सामने आया कि सी.सी.टी.वी. फुटेज में बच्ची अपने घर की गली से बाहर कहीं निकलती नहीं दिखाई दे रही। जिसके बाद पुलिस ने सारे मौहल्ले के घरों की तालाशी लेनी शुरू कर दी। गली के ही एक घर का ताला खुलवाया तो अंदर उसके बच्ची खून से लथपथ हालत में पड़ी हुई थी। जानकारी के अनुसार आरोपी खुद पारिवारिक सदस्यों के साथ बच्ची को ढूंढने में लगा था। बच्ची के माथे पर लोहे के हथोड़े से कई वार किए हुए थे व उसके मुंह पर आरोपी ने रेत के बोरे रखे हुए थे। हत्या के उपयोग में लाया हुआ हथौड़ा भी पास में ही पड़ा हुआ था। जब पुलिस को बच्ची मिली तो उसकी सांसे तब थोड़ी-थोड़ी चल रही थी। जिसे तुंरत फगवाड़ा के सिविल अस्पताल लाया गया, लेकिन अस्पताल पहुंचते ही बच्ची ने दम तोड़ दिया।

गुस्साए गांव वासियों ने आरोपी की खूब धुनाई की लेकिन जैसे तैसे पुलिस आरोपी को उनसे बचाकर वहां से निकाल कर ले गई। उधर घटना की सूचना मिलने के बाद सिविल अस्पताल फगवाड़ा पहुंचे थाना मुखी गोराया हरदीप सिंह ने कहा कि उन्हें बच्ची के लापता होने की सूचना शाम को मिली थी तो उन्होनें पुलिस पार्टी को उसे ढूंढने के लिए लगाया हुआ था। वह खुद चुनावी ड्यूटी लगी होने के कारण फिल्लौर थे। उन्होंने कहा कि पुलिस ने शव को फिल्लौर सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। रविवार को बच्ची का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा व जो भी बयान उसके पारिवारिक सदस्य देंगे उसके तहत कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के अनुसार आरोपी घर में अकेला ही रहता था व लेबर का काम करता था। गांव वासियों ने बताया कि 26 वर्षीय आरोपी युवक नशेड़ी है और उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है। उसकी एक बहन भी बताई जा रही है। किस प्रकार वह बच्ची को अपने साथ घर में ले गया इसकी जांच की जा रही है। आरोपी खुद बच्ची के पारिवारिक सदस्यों व गांव वासियों के साथ बच्ची को ढूंढने में लगा हुआ था जबकि बच्ची को उसी के घर से पुलिस ने बरामद किया है।

पंजाब और अपने शहर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


Content Writer

Sunita sarangal

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static